अभी तक नहीं बनवाया फास्टैग? नेशनल हाईवे के हाइब्रिड लेन पर इस दिन तक मिलेगी छूट

 एक जनवरी 2021 से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है.

एक जनवरी 2021 से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि हाइब्रिड लेन पर टोल का भुगतान फास्टैग के अलावा नकद भी किया जा सकता है.

  • भाषा
  • Last Updated: December 31, 2020, 10:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. फास्टैग (FASTag) को शुक्रवार यानी नए साल से अनिवार्य किया जा रहा है. ऐसे में लोगों को किसी तरह की असुविधा से बचाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्गों (National Highways) के टोल प्लाजा पर हाइब्रिड लेन को 15 फरवरी तक चालू रखने का फैसला किया गया है. सरकार ने गुरुवार को यह जानकारी दी. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (Ministry of Road Transport and National Highways) ने स्पष्ट किया है कि हाइब्रिड लेन पर टोल का भुगतान फास्टैग के अलावा नकद भी किया जा सकता है.

मंत्रालय ने गुरुवार को बयान में कहा, ‘‘मंत्रालय ने एक दिसंबर, 2017 से पहले बेचे गए एम और एन श्रेणी के मोटर वाहनों में एक जनवरी, 2021 से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया है.’’

एम श्रेणी से तात्पर्य कम से कम ऐसे चार पहिया वाहनों से हैं जिनमें यात्री यात्रा करते हैं. एन श्रेणी में कम से कम ऐसे चार पहिया वाहन आते हैं, तो माल ढुलाई के साथ लोगों को भी यात्रा कराते हैं.

यह भी पढ़ेंः PPF, NSC, SCSS में लगाया है पैसा तो जान लें कितना मिलेगा ब्याज, जारी हो गईं नई दरें
साल 2020 में ब्लॉकबस्टर साबित हुआ शेयर बाजार, निवेशकों ने कमाये 32.49 लाख करोड़ रुपये

बयान में कहा गया है, ‘‘यह स्पष्ट किया जाता है कि केंद्रीय मोटर वाहन नियम जैसा तय था वैसे ही लागू होगा. लेकिन राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल प्लाजा में हाइब्रिड लेन पर टोल का भुगतान फास्टैग के अलावा 15 फरवरी, 2021 तक नकद भी किया जा सकेगा.’’ हालांकि, फास्टैग लेन में टोल शुल्क का भुगतान सिर्फ फास्टैग से होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज