हाईवे पर एक्सीडेंट होने पर तुरंत मिलेगा इलाज, सरकार ने बनाया खास प्लान, जानें इस बारे में सबकुछ

बिहार के मधुबनी में सड़क हादसे में तीन की मौत (सांकेतिक चित्र)

Road safety system : इस सिस्टम में सबसे बड़ी खास बात होगी कि, जो एम्बुलेंस मौके पर पहुंचेगी वह ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (GPS) से लैस होगी. ताकि घायल को जल्द से जल्द नजदीकी अस्पताल (Hospital) में पहुंचाया जा सके.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश में लाख कोशिशों के बावजूद सड़क हादसों (Road Accidents) में कोई कमी नहीं आ रही है. इसके साथ ही रोड़ एक्सीडेंट में पीड़ित की मदद की अपील के बावजूद लोग मदद करने से बच रहे है. ऐसे में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय जल्द ही हाईवे (Highway) पर होने वाले एक्सीडेंट के लिए विशेष रोड़ सेफ्टी सिस्टम (Road safety system) बनाने जा रहा है. इस सिस्टम के लागू होने के बाद यदि किसी का राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक्सीडेंट होगा तो उसे तत्काल उपचार के लिए सरकारी मदद पहुंच जाएंगी. आइए जानते है सरकार के रोड़ सेफ्टी सिस्टम के बारे में...

    कैसी होगी सड़क सुरक्षा प्रणाली- केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की सड़क सुरक्षा प्रणाली में यदि किसी का हाईवे पर एक्सीडेंट होता है. तो इसकी जानकारी पुलिस और एम्बुलेंस सर्विसेस (Ambulance services) को तुरंत मिल जाएगी. इसके साथ ही इस सिस्टम में सबसे बड़ी खास बात होगी कि, जो एम्बुलेंस मौके पर पहुंचेगी वह ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (GPS) से लैस होगी. ताकि घायल को जल्द से जल्द नजदीकी अस्पताल (Hospital) में पहुंचाया जा सके.

    यह भी पढ़ें: टाटा लॉन्च करेगी 6 लाख रुपये से कम की SUV, क्रेटा, सेल्टोस और Ignis से होगा मुकाबला

    इस सिस्टम में पुलिस, एम्बुलेंस और अस्पताल को जोड़ा जाएगा- सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के सचिव गिरिधर अरमाने के अनुसार, इस सिस्टम में पुलिस, एम्बुलेंस और अस्पताल को एक ही नेटवर्क के माध्यम से जोड़ा जाएगा. ताकि एक्सीडेंट में घायल हुए लोगों को तत्काल इलाज मिल सकें. वहीं उन्होंने बताया कि, सड़क रोड़ सुरक्षा प्रणाली बचाव कार्य में पूरी मदद करेगी.

    यह भी पढ़ें: 70 हजार लगाकर शुरू करें कैब का बिजनेस, हर महीने हाे सकती है 50 हजार रुपये की कमाई

    इसमें कैशलेस होगा उपचार - मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सरकार इस प्रणाली के जरिए कैशलेस उपचार उपलब्ध कराने पर विचार कर रही है. वहीं इस प्रणाली को पूरे देश में प्रभावी करने के लिए परिवहन मंत्रालय ने आईआईटी और एनआईटी जैसी संस्थाओं से टाईअप किया है. ताकि सड़क सुरक्षा प्रणाली को पूरे देश में एक साथ प्रभावी किया जा सके.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.