लाइव टीवी

देश का पहला सेल्फ बैलेंसिंग स्कूटर, पैर भी नहीं रखने होंगे नीचे, बोलने पर हो जाएगा पार्क

News18Hindi
Updated: September 21, 2019, 6:23 AM IST
देश का पहला सेल्फ बैलेंसिंग स्कूटर, पैर भी नहीं रखने होंगे नीचे, बोलने पर हो जाएगा पार्क
सेल्फ बैलेंसिंग स्कूटर

कमांड मिलते ही ये स्कूटर पार्किंग स्लॉट से अपने आप ही बाहर निकल आया है. अभी तक वॉयस-एक्टिवेटेड पार्किंग फीचर किसी भी व्हीकल में देखने को नहीं मिला है

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2019, 6:23 AM IST
  • Share this:
आज टेक्नॉलजी दिन प्रतिदिन अपग्रेड होती जा रही है. जापान में जहां उड़ने वाली कार सामने आ चुकी है, तो वहीं अब भारत में खुद से बैलेंस बनाने वाला स्कूटर सामने आया है. ये स्कूटर इसलिए भी खास है, क्योंकि इसके ड्राइव करते वक्त संतुलन बिगड़ने का रिस्क भी बेहद कम होगा और इसकी सेल्फ बैलेंसिंग टेक्नॉलजी बेहद काम आएगी. आइए जानते हैं इस खास स्कूटर की सभी खासियतें...

अपने आप पार्किंग से आया बाहर
इस स्कूटर को भारतीय स्टार्ट अप Liger Mobility ने बनाया है. इस स्टार्ट ग्रुप का हिस्सा IIT और ISB के पुराने छात्र हैं, जिन्होंने आज इस बेमिसाल स्कूटर का इन्वेंशन किया है. ये स्कूटर सेल्फ बैलेंस के साथ-साथ आपकी वॉयस कमांड पर भी काम करता है. हालांकि अभी ये प्रोटोटाइप स्टेज पर ही और इसे रिएलिटी में लॉन्च होने में अभी कुछ और समय लगेगा.

इस स्कूटर का YouTube पर वीडियो भी है, जिसमें Liger Mobility के को-फाउंडर आशुतोष उपाध्याय स्कूटर को वॉयस कमांड दे रहे हैं. कमांड मिलते ही ये स्कूटर पार्किंग स्लॉट से अपने आप ही बाहर निकल आया है. अभी तक वॉयस-एक्टिवेटेड पार्किंग फीचर किसी भी व्हीकल में देखने को नहीं मिला है. आप ये देखकर दंग रह जाएंगे कि कैसे ये स्कूटर अपने आप बिना राइडर के रिवर्स होता है.

पैर नीचे रखने की जरूरत नहीं
वीडियो में आपको स्कूटर का एक और फीचर 'Feet always onboard' भी देखने को मिलेगा. इस फीचर की मदद से राइडर को अपने पैर जमीन पर नहीं रखने पड़ते हैं और वो स्कूटर के फ्लोरबोर्ड पर ही पैर रखें रह सकते हैं. ऐसा इसलिए मुमकिन हो पाया है क्योंकि स्कूटर में हमेशा बैलेंस बनाए रखने के लिए एक डिवाइस डेवलप किया गया है. ये राइडर को गिरने नहीं देगा. वहीं अगर स्कूटर को दूसरी गाड़ी साइड से टक्कर भी मारती है, तो भी ये डिवाइस स्कूटर को अपराइट रखेगा और राइडर को पूरी सेफ्टी देने की कोशिश करेगा.

कीमत भी नहीं होगी ज्यादा
Loading...

इस डिवाइज लाइगर की टीम ने दो साल की रिसर्च के बाद बनाया है. ये जब तैयार हो जाएगा, तो ये पेट्रोल और इलेक्ट्रिक दोनों ही स्कूटर्स पर काम कर सकेगा. वीडियो के मुताबिक, अगर इस डिवाइस का स्कूटर में इस्तेमाल किया भी गया तो इससे स्कूटर की कीमत सिर्फ 10 फीसदी ही बढ़ेगी, जो कि बहुत ज्यादा नहीं है. आपको बता दें कि ये कोई पहला सेल्फ-बैलेंसिंग स्कूटर नहीं है, क्योंकि Honda और BMW भी इस तरह के सेल्फ-बैलेंसिंग प्रोडक्ट्स के प्रोटोटाइप दिखा चुकी हैं. ये डिवाइस टू-व्हीलर्स का आने वाला फ्यूचर है. लेकिन फिलहाल इसे लॉन्च होने में कुछ साल का वक्त जरूर लगेगा.



ये भी पढ़ें: 

Odd-Even रूल नहीं मानने वालों को देना पड़ेगा 20 हजार का भारी जुर्माना...

हीरो मोटो कॉर्प का सरकार को सुझाव, इस तरह से करें GST दर में कटौती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 21, 2019, 6:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...