• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • KIA SELTOS AND SONET WAITING PERIOD REACHES NEW HIGH AUTO NEWS AMDM

Kia की सेल्टोस और सोनेट खरीदने का है विचार! तो पहले जान लीजिए डिलीवरी के लिए कितना करना होगा इंजतार

सॉनेट और सेल्टोस के अपडेटेड वर्जन में कई नए फीचर्स जोड़े गए हैं

कंपनी ने दोनों ही वेरिएंट के लिए पांच महीने का वेटिंग पीरियड बताया है. कंपनी के सोनेट (Sonet) और सेल्टोस (Seltos) मॉडल्स की डिमांड बहुत अधिक है और इस वजह से इनका वेटिंग पीरियड अभी तक का सबसे अधिक हो गया है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. दक्षिण कोरिया की ऑटोमोबाइल कंपनी किआ (Kia) की कारों को लेकर भारत में क्रेज कितना बढ़ गया है कि इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कंपनी ने दोनों ही वेरिएंट के लिए पांच महीने का वेटिंग पीरियड बताया है.  कंपनी के सोनेट (Sonet) और सेल्टोस  (Seltos) मॉडल्स की डिमांड बहुत अधिक है और इस वजह से इनका वेटिंग पीरियड अभी तक का सबसे अधिक हो गया है. कंपनी ने अपने SUV के नए वर्जन की कीमतें बढ़ाने की घोषणा की है. ये नई ब्रांड आइडेंटिटी और नए फीचर्स के साथ रहे हैं. किआ के सोनेट और सेल्टोर मॉडल्स के लगभग सभी वेरिएंट्स की डिलीवरी के लिए कस्टमर्स को 20 सप्ताह तक इंतजार करना होगाय किआ ने देश भर में अपने डीलर्स को सलाह दी है कि वे कस्टमर्स को इन मॉडल्स के लिए वेटिंग पीरियड अधिक होने की जानकारी दें.


    सोनेट के टर्बो-पेट्रोल iMT और DCT वेरिएंट्स की अधिक डिमांड


    एनसीआर में किआ की डीलरशिप्स का कहना है कि कस्टमर्स को सोनेट के नए वर्जन की डिलीवरी बुकिंग कराने के 11-12 सप्ताह बाद मिलेगी. सोनेट के टर्बो-पेट्रोल iMT और DCT वेरिएंट्स की अधिक डिमांड है. सेल्टोस के लिए वेटिंग पीरियड इससे अधिक है. सेल्टोस के HTK+ 1.5 लीटर पेट्रोल मैनुअल गियरबॉक्स वेरिएंट की डिलीवरी 16-17 सप्ताह के बाद ही मिलेगी. किआ के सभी अन्य वेरिएंट्स के लिए अभी वेटिंग पीरियड 17-20 सप्ताह का है. कलर की उपलब्धता और खरीदारी के स्थान के अनुसार वेटिंग पीरियड में बदलाव हो सकता है. 


    ये भी पढ़ें - खुशखबरी: पहली बार बंगाल के किसानों के खाते में आए 2000 रु, PM मोदी ने चुनाव प्रचार में किया था वादा





    डिमांड के अलावा यह भी है कारण


    कंपनी की कारों का वेटिंग पीरियड बढ़ने के पीछे डिमांड एकमात्र कारण नहीं है. कोरोना की दूसरी लहर के कारण हो रही तबाही का असर कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग और अन्य प्रोसेस पर पड़ा है. इसके अलावा कई राज्यों में लॉकडाउन और प्रतिबंधों के कारण ऑटोमोबाइल सेक्टर के लिए लॉजिस्टिक्स से जुड़ी चुनौतियां रही हैं जिससे मैन्युफैक्चरिंग शेड्यूल में भी रुकावट आई है. 


    यह भी पढ़ें: Hyundai की माइक्रो SUV AX1 जल्द होगी लॉन्च, यहां जानें कैसे होंगे फीचर्स


    दो महीने की एक्सटेंडेड सर्विस


    देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले और अलग-अलग शहरों में लगाए गए टोटल लॉकडाउन के चलते KIA  मोटर्स ने हाल ही में अपने सभी व्हीकल्स के लिए सर्विस शेड्यूल को दो महीने एक्सटेंड करने का फैसला किया है. इसमें उन व्हीकल्स को शामिल किया जाएगा जिनकी सर्विसिंग इस लॉकडाउन के दौरान है. कोरोना महामारी के कारण पूरे देश के कई राज्यों में पूरा या फिर आधा लॉकडाउन लगाया गया है. ऐसे में ग्राहक स्थिति सुधरने के बाद सर्विसिंग की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं.

    Published by:Amit Deshmukh
    First published: