कोरोना काल के दौरान Mahindra जल्द लॉन्च करेगा तीन इलेक्ट्रिक वाहन, पिछले साल बनाया था रिकार्ड

कोरोना काल के दौरान Mahindra जल्द लॉन्च करेगा तीन इलेक्ट्रिक वाहन, पिछले साल बनाया था रिकार्ड
जल्द ही लॉन्च होंगे महिंद्रा के तीन इलेक्ट्रिक वाहन

Mahindra की इलेक्ट्रिक वाहन सहायक कंपनी, Treo eAuto और Treo Yaari eRickshaw की बढ़ती मांग को देखते हुए इस वित्तीय वर्ष में eKUV100, Treo Zor और Atom को लॉन्च करेगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. COVID-19 और भारत-चीन तनाव के कारण आयात में व्यवधान के बावजूद Mahindra Electric का कहना है कि वह 2021 में तीन नए इलेक्ट्रिक व्हीकल लॉन्च करने के लिए प्रतिबद्ध है. कंपनी ने पिछले साल 14,000 से अधिक इलेक्ट्रिक वाहन बेचे थे. Mahindra की इलेक्ट्रिक वाहन सहायक कंपनी इस वित्तीय वर्ष में eKUV100, Treo Zor और Atom को लॉन्च करेगा. कोरोना काल के दौरान Treo eAuto और Treo Yaari eRickshaw की बढ़ती मांग को देखते हुए कंपनी अब एक लोड कैरियर, Treo Zor को साल के अंत तक लॉन्च करने की तैयारी में है.

महिंद्रा इलेक्ट्रिक के एमडी और सीईओ, महेश बाबू ने कहा कि ई-कॉमर्स कम्पनियों और डिलिवरी के क्षेत्र में इलेक्ट्रिक लोड ऑटो लोड की काफी संभावनाएं हैं. इलेक्ट्रिक ऑटो की मांग दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है और इसी को देखते हुए हम इस साल के अंत तक Treo Zor को लॉन्च करना चाहते हैं.बाबू ने कहा कि कंपनी इलेक्ट्रिक ऑटो की तरफ ध्यान केंद्रित रखेगा क्योंकि ये ग्राहकों के लिए किफायती है.

लॉकडाउन के कारण रोकना पड़ा लॉन्चिंग
लॉकडाउन के कारण eKUV की लॉन्चिंग को स्थगित कर दिया गया था. मुंबई, चेन्नई और दिल्ली जैसे बड़े शहरों में कई जगह संक्रमण के कारण अभी भी प्रतिबंध हैं और इसलिए EKUV100 को लॉन्च करने के लिए सही समय का इंतजार किया जा रहा है. हमें ऐसे समय में लॉन्च करना होगा जब ग्राहक स्वतंत्र रूप से वाहन का उपयोग कर सकते हैं.



फरवरी में महिंद्रा एंड महिंद्रा के एमडी और सीईओ पवन गोयनका ने सीएनबीसी-टीवी 18 को बताया था कि कंपनी महिंद्रा इलेक्ट्रिक में हिस्सेदारी बेच रही है.



ये भी पढ़ें : इलेक्ट्रिक व्हीकल की चार्जिंग का झंझट खत्म, इंडियन ऑयल ला रहा ये खास सुविधा

फरवरी में महिंद्रा एंड महिंद्रा के एमडी और सीईओ पवन गोयनका ने सीएनबीसी-टीवी 18 को बताया था कि कंपनी महिंद्रा इलेक्ट्रिक में हिस्सेदारी बेच रही है. “इलेक्ट्रिक वाहन का स्केल बहुत महत्वपूर्ण है और हम सबस्केल करेंगे. लेकिन यदि हम अपने सब कुछ करते हैं तो प्रोडक्शन पर असर पड़ेगा. लागत कम करने के लिए हमें रणनीतिक बनाना जरुरी है. आईपीओ के बारे में बात करना जल्दबाजी होगी, हमें पहले मुनाफे पर काम करने और अपनी हिस्सेदारी को नीचे लाने की जरूरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading