लाइव टीवी

मारुति सुजुकी ने घटाया गाड़ियों का प्रोडक्शन, ये है वजह

भाषा
Updated: October 8, 2019, 3:06 PM IST
मारुति सुजुकी ने घटाया गाड़ियों का प्रोडक्शन, ये है वजह
बलेनो आरएस

पिछले महीने (सितंबर) पैसेंजर गाड़ियों का उत्पादन सालाना आधार पर 17.37 प्रतिशत घटकर 1,30,264 इकाई रहा, जबकि सितंबर 2018 में ये संख्या 1,57,659 इकाई थी

  • Share this:
नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (maruti suzuki) ने नरमी को देखते हुए सितंबर में अपना उत्पादन 17.48 प्रतिशत घटा दिया. ये लगातार 8वां महीना है जब कार बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी ने अपना उत्पादन कम किया है. मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) ने शेयर बाजारों को दी सूचना में कहा कि कंपनी ने सितंबर महीने में 1,32,199 यूनिट्स का उत्पादन किया, जबकि एक साल पहले इसी महीने में ये संख्या 1,60,219 इकाई थी.

कितना रहा गाड़ियों का उत्पादन
पिछले महीने (सितंबर) पैसेंजर गाड़ियों का उत्पादन सालाना आधार पर 17.37 प्रतिशत घटकर 1,30,264 इकाई रहा, जबकि सितंबर 2018 में ये संख्या 1,57,659 इकाई थी. कंपनी की आल्टो (Alto), न्यू वैगनआर (wagonR), सिलेरियो (Celerio), इगनिस (ignis), स्विफ्ट (swift), बलेनो (baleno) और डिजायर (dzire) समेत छोटी एवं काम्पैक्ट सेगमेंट की कारों का उत्पादन सितंबर महीने में 98,337 इकाई रहा, जो पिछले साल इसी महीने में 1,15,576 इकाई था. इसी प्रकार, विटारा ब्रेजा (vitara brezza), एर्टिंगा (ertiga) और एस-क्रॉस (s-cross) जैसी गाड़ियों का उत्पादन 17.05 प्रतिशत घटकर इस साल सितंबर में 18,435 इकाई रहा, जबकि पिछले साल इसी महीने में 22,226 इकाइयों का उत्पादन हुआ था.

सभी कंपनियों के हाल बेहाल

अगस्त महीने में कंपनी ने उत्पादन 33.99 प्रतिशत कम किया था. कंपनी ने उस दौरान 1,11,370 वाहनों का उत्पादन किया था. टाटा मोटर्स के यात्री वाहनों का उत्पादन भी इस साल सितंबर में 63 प्रतिशत घटकर 6,976 इकाई रहा जो पिछले साल इसी महीने 18,855 इकाई था. मारुति सुजुकी, हुंडई, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स, टोयोटा और होंडा समेत सभी बड़ी वाहन कंपनियों की घरेलू बिक्री में दहाई अंक में गिरावट दर्ज की गई. त्योहार शुरू होने के बावजूद वाहनों की मांग सुस्त है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2019, 3:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...