Home /News /auto /

Maruti Suzuki का बड़ा ऐलान, अब नहीं बनाएंगे डीजल कारें, जानें वजह

Maruti Suzuki का बड़ा ऐलान, अब नहीं बनाएंगे डीजल कारें, जानें वजह

मारुति सुजुकी

मारुति सुजुकी

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) का मानना है कि उत्सर्जन मानदंडों के अगले चरण से डीजल वाहनों की लागत बढ़ जाएगी, जिससे बाजार में उनकी बिक्री पर और असर पड़ेगा, जिसमें पिछले कुछ वर्षों से पेट्रोल कारों की ओर धीरे-धीरे बदलाव देखा गया है. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) ने डीजल सेगमेंट में वापस आने से इनकार किया है क्योंकि उसका मानना है कि 2023 में उत्सर्जन मानदंडों के अगले चरण की शुरुआत के साथ ऐसे वाहनों की बिक्री में और कमी आएगी. कंपनी ने फैसला लिया है कि उसे डीजल वाहन सेगमेंट से दूर रहना है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) का मानना है कि उत्सर्जन मानदंडों के अगले चरण से डीजल वाहनों की लागत बढ़ जाएगी, जिससे बाजार में उनकी बिक्री पर और असर पड़ेगा, जिसमें पिछले कुछ वर्षों से पेट्रोल कारों की ओर धीरे-धीरे बदलाव देखा गया है. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) ने डीजल सेगमेंट में वापस आने से इनकार किया है क्योंकि उसका मानना है कि 2023 में उत्सर्जन मानदंडों के अगले चरण की शुरुआत के साथ ऐसे वाहनों की बिक्री में और कमी आएगी. कंपनी ने फैसला लिया है कि उसे डीजल वाहन सेगमेंट से दूर रहना है.

    कंपनी के प्रमुख तकनीकी अधिकारी सीवी रमन ने पीटीआई से बातचीत में कहा “हम डीजल की कारों का निर्माण नहीं करेंगे. हमने पहले संकेत दिया था कि हम इसका अध्ययन करेंगे और अगर ग्राहकों की मांग है तो हम वापसी कर सकते हैं. लेकिन आगे जाकर, हम डीजल क्षेत्र में भाग नहीं लेंगे.”

    क्या है कारण?
    मुख्य तकनीकी अधिकारी सीवी रमन ने आगे कहा कि साल 2023 में होने वाले उत्सर्जन मानदंडों के अगले स्टेज की शुरुआत के बाद कम होगी डीजल वाहनों की बिक्री. उन्होंने कहा कि लोगों का इन्टरिस्ट पिछले कुछ वर्षों में पेट्रोल कारों की ओर ज्यादा हुआ है, इतना ही नहीं सी वी रमन ने आगे भी कहा कि आगामी समय में, हम डीजल के क्षेत्र में भाग नहीं लेने वाले.

    उद्योग में लगाए गए अनुमान के अनुसार, वर्तमान समय में कुल पैसेंजर वाहनों (PV) की बिक्री के 17 फीसदी से कम है. यह 2013-14 की तुलना में भारी कमी है जब कुल बिक्री में डीजल कारों की हिस्सेदारी 60 प्रतिशत थी. मारुति सुजुकी इंडिया ने सख्त BS-VI उत्सर्जन मानदंडों की शुरुआत के साथ अपने पोर्टफोलियो से डीजल मॉडल को बंद कर दिया था.

    ये भी पढ़ें: Petrol Price Today: इस शहर में 1 लीटर पेट्रोल हुआ ₹82.96 और डीजल ₹77.13, जानें अपने शहर का भाव

    1 अप्रैल, 2020 से BS-VI उत्सर्जन व्यवस्था की शुरुआत के साथ देश में पहले से ही कई वाहन निर्माताओं ने अपने संबंधित पोर्टफोलियो के डीजल ट्रिम्स को रद्द कर दिया है. कंपनी की संपूर्ण मॉडल श्रृंखला वर्तमान में BS-VI अनुपालित 1 लीटर, 1.2 लीटर और 1.5 लीटर गैसोलीन इंजन द्वारा संचालित है. यह अपने सात मॉडलों में सीएनजी ट्रिम भी प्रदान करता है.

    Tags: Auto News, Car Bike News, Maruti Suzuki

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर