• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • हुंडई क्रेटा और किया सेल्टोस को टक्कर देने के लिए मारुति ला रही है नई एसयूवी! जानिए डिटेल्स

हुंडई क्रेटा और किया सेल्टोस को टक्कर देने के लिए मारुति ला रही है नई एसयूवी! जानिए डिटेल्स

एसयूवी सेग्मेंट में मारूति की हिस्सेदारी सिर्फ 13.2 प्रतिशत है

मारुति सुजुकी इंडिया के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग और सेल) शशांक श्रीवास्तव ने एक नई एसयूवी के संभावित लॉन्च की ओर कुछ मजबूत संकेत दिए. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि इस सेगमेंट में कंपनी अभी कहां स्टेंड कर रही है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) ने अपनी एंट्री-लेवल एसयूवी(entry-level SUV) विटारा ब्रेज़ा (Vitara Brezza) के साथ सफल प्रदर्शन किया है. हालांकि, यह भी सच है कि कंपनी मिड-साइज एसयूवी सेगमेंट (mid-size SUV segment) में अपनी छाप छोड़ने में अब तक नाकाम रही है. इस सेगमेंट में मौजूदा उत्पाद, एस-क्रॉस (S-Cross) पिछले साल एक अपडेट के बावजूद क्रेटा (Creta) और सेल्टोस (Seltos) जैसी नई पीढ़ी की मध्यम आकार की एसयूवी की पसंद के साथ प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम नहीं है. यही वजह है कि अब, मारुति सुजुकी दूसरे मौके के लिए इस सेगमेंट पर नजर गड़ाए हुए है. मारुति सुजुकी इंडिया के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग और सेल) शशांक श्रीवास्तव ने एक नई एसयूवी के संभावित लॉन्च की ओर कुछ मजबूत संकेत दिए. मिंट में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार श्रीवास्तव ने कहा कि  “मिड एसयूवी में, हमारी बाजार हिस्सेदारी वास्तव में काफी कम है, भले ही विटारा ब्रेज़ा एंट्री-एसयूवी सेगमेंट में अग्रणी है लेकिन मिड-एसयूवी में, हमारे पास एस-क्रॉस है, जिसे हमने हाल ही में अगस्त में नए इंडन के साथ लॉन्च किया है.


    उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है कि इसने हमें अब तक सबऑप्टिमल नंबर्स यानि जितना हम उम्मीद कर रहे थे उतने नंबर नहीं मिल पाए है. लेकिन हम इसे आगे आने वाले वर्षों में बढ़ाने का इरादा रखते हैं. उन्होंने कहा कंपनी उस स्पेस को ध्यानपूर्वक देख रही है. 


    एक प्रोडक्ट प्लान है लेकिन मैं अभी बोल नहीं सकता


    वे कहते हैं कि हां, हमारे पास एक प्रोडक्ट प्लान है लेकिन मैं भविष्य की उत्पाद योजना के बारे में नहीं बोल सकता. श्रीवास्तव ने कहा लेकिन हां हम इस तथ्य से अवगत हैं और हम इस सेगमेंट पर बेहद सावधानी से नजर बनाए है और यकीनन हम इसे लेकर कोई एक्शन जल्द ही लेंगे. उन्होंने स्वीकार किया कि तेजी से बढ़ते एसयूवी सेगमेंट में उम्मीद से कम प्रदर्शन के कारण मल्टीपल पर्पस व्हीकल (एमपीवी) सेगमेंट में कंपनी का कुल मार्केट हिस्सेदारी में कमी हो रही है. वे “कहते है जब आप एसयूवी (सेगमेंट) के साथ समग्र तस्वीर देखते हैं, और यही वह जगह है जहां मुझे लगता है कि हमारी बाजार हिस्सेदारी सिर्फ 13.2% है. हालांकि, हम अब तक बाजार में अग्रणी हैं, जहां तक ​​​​एंट्री एसयूवी ( सेगमेंट) का संबंध है.  


    ये भी पढ़ें - बुकिंग, सर्विस और पेमेंट के लिए BMW ने लॉन्च की कॉन्टैक्टलैस सर्विस, जानें सबकुछ





    बढ़ते एसयूवी सेग्मेंट एक बड़ा फुटप्रिंट होना जरूरी


    उन्होंने कहा मिड एसयूवी एस क्रॉस का परफॉर्मेंस ऑप्टिमल रहा है. यही वह जगह है जहां हमारा मार्केट शेयर कम हो रहा है एमपीएल सेग्मेंट में. उन्होंने इस तथ्य को स्वीकार किया कि कंपनी के लिए घरेलू यात्री वाहन सेग्मेंट में लगभग 50 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी बनाए रखने के लिए बढ़ते एसयूवी सेग्मेंट एक बड़ा फुटप्रिंट होना जरूरी है. 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज