होम /न्यूज /ऑटो /सिर्फ 8 घंटे में तय होगी नागपुर-पुणे के बीच 716 किमी की दूरी, अभी लगते हैं 15 घंटे : नितिन गडकरी

सिर्फ 8 घंटे में तय होगी नागपुर-पुणे के बीच 716 किमी की दूरी, अभी लगते हैं 15 घंटे : नितिन गडकरी

नागपुर से मुंबई जाने में भी कम लगेगा समय. (फाइल फोटो)

नागपुर से मुंबई जाने में भी कम लगेगा समय. (फाइल फोटो)

एक दिन पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने घोषणा की है कि नया प्रस्तावित ग्रीन एक्सप्रेसवे, जिसे पुणे-छत्रपति संभाजीनगर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

नया ग्रीन एक्सप्रेसवे दोनों शहरों के बीच ट्रैवल टाइम को कम करेगा.
नागपुर से पुणे तक सड़क मार्ग से केवल आठ घंटे में यात्रा की जा सकेगी
एक्सप्रेसवे परियोजना भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण शुरू करेगी.

नई दिल्ली. भारत के हाई-स्पीड एक्सप्रेसवे के बढ़ते नेटवर्क के चलते जल्द ही महाराष्ट्र के दो महत्वपूर्ण शहरों नागपुर और पुणे का सफर आसान और छोटा हो जाएगा. जल्द ही दोनों शहरों के बीच एक ग्रीन एक्सप्रेसवे बनाया जाएगा, जिससे सिर्फ 8 घंटे में एक शहर से दूसरी शहर तक पहुंचा जा सकता है. वर्तमान में नागपुर से पुणे आने-जाने में करीब दोगुने यानी 15 घंटे का समय लगता है.

एक दिन पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने घोषणा की है कि नया प्रस्तावित ग्रीन एक्सप्रेसवे, जिसे पुणे-छत्रपति संभाजीनगर (औरंगाबाद) एक्सेस कंट्रोल ग्रीन एक्सप्रेसवे कहा जाएगा, दोनों शहरों को उन लोगों के करीब आने में मदद करेगा जो सड़क मार्ग से यात्रा करना पसंद करते हैं. नया एक्सप्रेसवे 701 किलोमीटर लंबे नागपुर-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ा होगा, जिसे छत्रपति संभाजीनगर के पास नागपुर-मुंबई समृद्धि महामार्ग के नाम से भी जाना जाता है.

ये भी पढ़ें- 1 नवंबर से बदल जाएंगे कार चलाने के नियम, नहीं माने तो होगी सख्त कार्रवाई

काफी कम समय में तय होगा सफर
नितिन गडकरी ने कहा कि नया ग्रीन एक्सप्रेसवे दोनों शहरों के बीच यात्रा करने में लगने वाले समय को काफी हद तक कम करने में मदद करेगा. केंद्रीय मंत्री के अनुसार, नागपुर से पुणे तक सड़क मार्ग से केवल आठ घंटे में यात्रा की जा सकेगी, जो वर्तमान में लगने वाले खर्च का लगभग आधा है. उन्होंने कहा कि नया एक्सप्रेसवे परियोजना भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) द्वारा शुरू की जाएगी.

ये भी पढ़ें- फोर व्हीलर खरीदने का सपना होगा पूरा, आ रही है देश की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार

दो रिजर्व फॉरेस्ट को बायपास करेगा ग्रीन एक्सप्रेसवे
नागपुर और पुणे के बीच की दूरी 716 किलोमीटर है और वर्तमान में राष्ट्रीय राजमार्ग 753C के जरिए दूरी को कवर करने के लिए सड़क मार्ग से यात्रा करने में लगभग 15 घंटे लगते हैं. सड़क योजना के बारे में जानकारी शेयर करते हुए गडकरी ने कहा कि पुणे-नागपुर ग्रीन एक्सप्रेसवे आखिरकार शहर के पास पुणे-बेंगलुरु एक्सप्रेसवे से जुड़ जाएगा. यह दो रिजर्व फॉरेस्ट को बायपास करेगा और इसे सूरत-चेन्नई एक्सप्रेसवे से जोड़ने वाला एक चौराहा भी होगा.

नागपुर से मुंबई जाने में कम लगेगा समय
नया एक्सप्रेसवे नागपुर को सड़क मार्ग से मुंबई के करीब भी लाएगा. यह यात्रियों को मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे से जोड़ने में मदद करेगा, जो 95 किलोमीटर लंबे 6-लेन हाई-स्पीड हाईवे है, जिससे कार से यात्रा करने पर तीन घंटे से भी कम समय लेता है. कुल मिलाकर नागपुर और मुंबई के बीच की दूरी भी घटकर महज 11 घंटे रह जाएगी.

Tags: Auto News, Autofocus, Automobile, Car Bike News, National Highways Authority of India, Nitin gadkari

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें