लाइव टीवी

जल्द आसानी से मिलेंगे इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए चार्जिंग स्टेशन, सरकार तेजी से कर रही काम

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 8:16 PM IST
जल्द आसानी से मिलेंगे इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए चार्जिंग स्टेशन, सरकार तेजी से कर रही काम
इलेक्ट्रिक गाड़ियों के चार्जिंग स्टेशन

इलेक्ट्रिक गाड़ियों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सरकार भी कई कदम उठा रही है. इलेक्ट्रिक गाड़ी खरीदने पर सरकार की ओर से सब्सिडी भी दी जाती है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 8:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एनटीपीसी इलेक्ट्रिक वाहनों (ई-वाहन) के चार्जिंग बुनियादी ढांचे पर काम कर रही है. एनटीपीसी के कार्यकारी निदेशक मोहित भार्गव ने कहा कि ई-वाहन एक अच्छा विचार या कॉन्सेप्ट है, लेकिन बैटरी से जुड़ी चीजें एक अहम मुद्दा है. भार्गव ने भारत ऊर्जा शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, 'एनटीपीसी ई-वाहन के मोर्चे पर दृढ़ता के साथ काम कर रही है. खासकर चार्जिंग नेटवर्क के मामले में.'

बैटरी को लेकर क्या हैं दिक्कतें
उन्होंने कहा, 'बैटरी को लेकर कई बड़ी दिक्कतें हैं, जैसे बैटरी के चलने की अवधि (टाइम पीरियड) और बैटरी का फिर से इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है.' एनटीपीसी ने इससे पहले कहा था कि उसने ओला, लिथियम, शटल, बाउंस और जूम कार समेत अन्य कैब एग्रीगेटर के साथ करार किया है, ताकि ई-वाहन के लिए सार्वजनिक चार्जिंग बुनियादी ढांचे के निर्माण किया जा सके.

सरकार दे रही है छूट

इलेक्ट्रिक गाड़ियों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सरकार भी कई कदम उठा रही है. इलेक्ट्रिक गाड़ी खरीदने पर सरकार की ओर से सब्सिडी भी दी जाती है. साथ ही सरकार लिथियम ऑयन बैटरी की मैन्युफैक्चरिंग पर भी सब्सिडी देने की योजना लेकर आई है. इसके लिए सरकार बैटरी मैन्युफैक्चरिंग पॉलिसी लाई है. पॉलिसी के मुताबिक, सरकार प्रति किलोवॉट ऑवर 2,000 रुपए की सब्सिडी देगी. इसका मतलब ये होगा कि एक इलेक्ट्रिक व्हीकल में एक बड़ा हिस्सा बैटरी खर्च को लेकर है. लिथियम बैटरी पर सब्सिडी से इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमत कम हो जाएगी. ये सब्सिडी इलेक्ट्रिक व्हीकल पर मौजूदा छूट के अलावा होगी.

54 गीगा वॉट की बैटरी मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी बनाने का लक्ष्य
इस पॉलिसी के अंदर सरकार अगले तीन साल में 54 गीगा वॉट की बैटरी मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी बनाना चाहती है. सरकार उन्हीं कंपनियों को सब्सिडी देगी जो कम से कम 5 गीगा वॉट से लेकर 20 गीगा वॉट के बीच की फैक्ट्री लगाना चाहते हैं.
Loading...

(भाषा से इनपुट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 8:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...