भारत का सबसे बड़ा ई-स्कूटर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाएगी OLA, कई राज्य सरकारों से चल रही है बात

ओला कैब
ओला कैब

ऑनलाइन कैब बुकिंग की सर्विस देने वाली कंपनी ओला कैब्स (Ola Cabs) इलेक्ट्रिक स्कूटर (E-Scooter) मैन्युफैक्चरिंग में उतरने की योजना बना रही है. कंपनी ई-स्कूटर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने के लिए विभिन्न राज्य सरकारों से बातचीत कर रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. ऑनलाइन कैब बुकिंग की सर्विस देने वाली कंपनी ओला कैब्स (Ola Cabs) इलेक्ट्रिक स्कूटर मैन्युफैक्चरिंग में उतरने की योजना बना रही है. कंपनी ई-स्कूटर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने के लिए विभिन्न राज्य सरकारों से बातचीत कर रही है. सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी और कहा कि यह देश में सबसे बड़ा ई-स्कूटर (E-Scooter) कारखाना होगा.

सूत्रों ने बताया कि ओला की अनुषंगी यूनिट ओला इलेक्ट्रिक इस परियोजना को लेकर कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र सहित विभिन्न राज्य सरकारों से बात कर रही है. वह 20 लाख यूनिट सालाना क्षमता का प्लांट लगाना चाहती है. सूत्रों ने संयंत्र 100 एकड़ क्षेत्र में लगाने का विचार है. इसमें सौर ऊर्जा का इस्तेमाल होगा.

इस बारे में संपर्क करने पर ओला ने कोई टिप्पणी नहीं की. मामले से जुड़े एक अन्य सूत्र ने कहा कि ओला इलेक्ट्रिक की योजना अगले 18 से 24 माह में उत्पादन शुरू करने की है. अभी बजाज ऑटो, हीरो मोटो-कॉर्प समर्थित अथर एनर्जी, हीरो इलेक्ट्रिक और अन्य कंपनियां देश में इलेक्ट्रिक दोपहिया बना रही हैं.



हाल ही में इटेर्गो बी वी का किया अधिग्रहण
ओला इलेक्ट्रिक ने इस साल मई में एम्सटर्डम की इटेर्गो बी वी के अधिग्रहण की घोषणा की थी. इस सौदे की राशि का खुलासा नहीं किया गया था. अगस्त में ओला इलेक्ट्रकि ने 1,000 इंजीनियरों की नियुक्ति तथा जल्द इलेक्ट्रिक दोपहिया पेश करने की घोषणा की थी.

OLA पुणे में खोलेगी नया टेक सेंटर, 1000 इंजीनियरों को देगी जॉब
वहीं, ओला (Ola) ने पुणे में एक नया टेक्नोलॉजी सेंटर (Technology Centre) स्थापित करने और अगले कुछ वर्षों में लगभग 1,000 इंजीनियरों को नियुक्त करने की योजना बनाई है. सूत्रों के अनुसार यह नया केंद्र ओला के भारत और अन्य देशों में कारोबार के लिए आवश्यक प्रौद्योगिकी समाधान में मदद करेगा. मोबाइल ऐप आधारित टैक्सी सेवा कंपनी ओला का देश में यह दूसरा प्रौद्योगिकी केंद्र होगा. एक केंद्र बेंगलुरु में पहले से चल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज