Ola तमिलनाडु में बना रही है दुनिया की सबसे बड़ी ई-स्‍कूटर फैक्‍ट्री ,जानिए सबकुछ

5000 राेबाेट्स करेंगे काम

5000 राेबाेट्स करेंगे काम

ऐप आधारित टैक्सी सेवा देने वाली कंपनी ओला (OLA) ने तमिलनाडु में 500 एकड़ जमीन पर दुनिया की सबसे बड़ी ई-स्‍कूटर फैक्‍ट्री के निर्माण की शुरूआत कर दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 11:14 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली.  ऐप आधारित टैक्सी सेवा देने वाली कंपनी ओला (OLA) ने तमिलनाडु में  500 एकड़ जमीन पर दुनिया की सबसे बड़ी -स्‍कूटर फैक्‍ट्री के निर्माण की शुरूआत कर दी है.  कंपनी ने दिसंबर 2020 में तमिलनाडु सरकार के साथ 2400 करोड़ रुपये के एमओयू की घोषणा की थी और इस साल जनवरी में तेजी से भूमि अधिग्रहण काे पूरा किया था . वही खबर यह है कि कंपनी अगले कुछ महीनों में अपने कारखाने के संचालन के लिए तेजी से काम कर रही है. फैक्ट्री को रिकॉर्ड समय में तैयार करने के लिए 10 मिलियन से ज्यादा मानव-घंटे कार्य की योजना बनाई गई है, जिसका पहला चरण आने वाले महीनों में चालू हो जाएगा.



ये भी पढ़े - ABHI Health insurance: प्रीमियम पर मिलेगा 100% तक रिटर्न, विदेश में कैशलेस हाॅस्टिलाइजेशन की सुविधा समेत बहुत कुछ, जानें डिटेल्स 



ओला यहां ग्रीनरी पर भी ध्यान केंद्रित कर है यही वजह है कि इस क्षेत्र में पेड़ों की सुरक्षा और प्रत्यारोपण करके इस क्षेत्र में ग्रीन बेल्ट के संरक्षण को सुनिश्चित किया जाने वाला है. ओला ने साइट के भीतर एक बड़े वन क्षेत्र की योजना बनाई है और कारखाने के भीतर खुदाई की गई मिट्टी और चट्टानों का पुन: उपयोग किया है. कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी -स्‍कूटर फैक्‍ट्री लगाने पर 2,400 करोड़ रुपये खर्च करेगी. कंपनी का दावा है कि इस फैक्‍ट्री के तैयार होने पर करीब 10,000 लोगों के लिए रोजगार के अवसर (Employment Opportunities) पैदा होंगे. कंपनी ने बताया कि शुरुआत में इसकी मैन्‍युफैक्‍चरिंग कैपेसिटी सालाना 20 लाख व्‍हीकल की होगी.



दस हजार लाेगाें काे राेजगार के अवसर


ओला की मेगा-फैक्ट्री में चरण 1 में एक वर्ष में 2M इकाइयों की प्रारंभिक क्षमता होगी और यह भारत और अंतर्राष्ट्रीय बाजारों सहित यूरोप, ब्रिटेन, लैटिन अमेरिका में इलेक्ट्रिक-पॉवर स्कूटर और दोपहिया वाहनों की रेंज के लिए कंपनी के वैश्विक विनिर्माण केंद्र के रूप में काम करेगी. जिससे करीब 10,000 नौकरियां मिलेगी. कंपनी 4.0 सिद्धांतों को शामिल करेगी जिसमें एआई इंजन और तकनीकी स्टैक द्वारा संचालित किया जाएगा.



ये भी पढ़े - Mahindra की ये इलेक्ट्रिक कार सिंगल चार्ज में चलेगी 375km, जानें लॉन्चिंग डेट और कीमत









इन कंपनियों से होगा ओला के ई-स्‍कूटर का मुकाबला

ओला का लक्ष्य पहले साल में 10 लाख ई-स्कूटर की बिक्री का है. ई-स्कूटर मार्केट में ओला के सामने बजाज ऑटो (Bajaj Auto), हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) की समर्थित अथरएनर्जी (AtherEnergy), हीरो इलेक्ट्रिक (Hero Electric) जैसी कंपनियां मुकाबले में रहेंगी, जो भारतीय बाजार में पहले से इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स की बिक्री करती हैं. ओला आने वाले महीनों में अपनी इलेक्ट्रिक स्कूटर की श्रेणी में पहला लॉन्च करने के करीब है. स्कूटर में बढ़िया डिज़ाइन, रिमूवेबल बैटरी, हाई परफॉर्मेंस और रेंज के साथ-साथ इंडस्ट्री फर्स्ट टेक्नोलॉजी के कई फ़ीचर होने की उम्मीद है. स्कूटर पहले ही कई प्रतिष्ठित डिजाइन और नवाचार पुरस्कार जीत चुका है, जिसमें सीईएस में आईएचएस मार्किट इनोवेशन अवार्ड और जर्मन डिज़ाइन अवार्ड शामिल हैं.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज