कम्प्यूटर चिप की कमी के चलते जगुआर लैंड रोवर ने रोका प्रोडक्शन

जगुआर लैंड रोवर (फोटो क्रेडिट- Reuters)

जगुआर लैंड रोवर (फोटो क्रेडिट- Reuters)

ऑटोमोटिव चिप्स के शीर्ष सप्लायर रेनेसन इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन द्वारा चलाए जा रहे एक प्रमुख चिप उत्पादक संयंत्र में आग लगने से कंप्यूटर चिप की लगातार कमी बनी हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 3:11 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. जगुआर (Jaguar) ने कम्प्यूटर चिप (Computer Chip )की कमी के चलते यूके में अपनी कार जगुआर लैंड रोवर (Jaguar Land Rove JLR) गाड़ी का प्रोडक्शन (Production )कुछ समय के लिए रोक दिया है. कोविड 19 पैंडमिक (Covid 19)  ने किस तरह ग्लोबल कार मैन्यूफैक्चरिंग इंडस्ट्री (Car Manufacturing )को प्रभावित करना शुरू कर दिया लैंड रोवर का प्रोडक्शन रूकना इसके बारे में साफ संकेत देता है. गार्जियन की एक रिपोर्ट के अनुसार जेएलआर ने कहा कि अप्रैल मध्य से वेस्ट मिडलैंड्स और मर्सीसाइड में एक सप्ताह के लिए शटडाउन की उम्मीद है हालांकि यह भी चिप की आपूर्ति पर निर्भर करेगा. मालूम हो दुनिया भर में कम्प्यूटर चिप और सेमीकंडक्टर की कमी का असर दिखाई दे रहा है. गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार  Xbox और Play station जैसी बनाने वाली   टेक दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ़्ट और सोनी, सैमसंग और क्रिप्टोकरंसी के लिए भी चिप चाहिए होती है डिजिटल एसेट जीतने के लिए सभी इससे प्रभावित हुए है. 



बहरहाल, ऑटोमोटिव इंडस्ट्री समय पर होने वाली सप्लाई चैन से ही चलता है. वैश्विक स्तर पर चिप की कमी की वजह से कार निर्माता कंपनियों को भी बल मिला है कि वे सीधे आपूर्ति के लिए टेक कंपनियों से मुक़ाबला करे. हालांकि जेआरएल की जिन फ़ैक्ट्री में काम बंद हुआ है वहाँ के कर्मचारियों को सरकार के उस निर्देश से राहत जरूर होगी जिसमें कोविड 19 के चलते काम न कर पाने की स्थिति में भी कंपनी को सैलरी का 80 फीसदी तन्ख्वाह देनी होगी. 



रेनॉल्ड भी है चिप सप्लाई से प्रभावित 



फ्रेंच कार निर्माता रेनॉल्ट से भी बुधवार को कहा कि कार मैन्यूफैक्चरिंग इंडस्ट्री सबसे ज्यादा कठिनाई में है चिप सप्लाई की वजह से. और दिक्कत गर्मियों तक रहने की उम्मीद है. फोर्ड, टोयोटा, वोक्सवैगन, होंडा मोटर कार निर्माता चिप्स और सेमीकंडक्टर की कम सप्लाई से बुरी तरह प्रभावित है. क्योंकि इन चिप्स का इस्तेमाल इंजन और ड्राइविं प्रदर्शन से लेकर एयर कंडीशनिंग और मंनोरंजन प्रणालियों तक सब कुछ का प्रबंधन और निगरानी करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. 


ये भी पढ़ें - Skoda Octavia India के लिए करना होगा इंतजार, जानें किस वजह से टली लॉन्चिंग









कई जगह बंद हुआ प्रोडक्शन 



दुनिया के कई बड़े ऑटोमेर्स ने एशिया, यूरोप, नार्थ अमेरिका में कुछ समय के लिए प्रोडक्शन बंद कर दिया है. जिसकी वजह कम्प्यूटर चिप की कमी है. मालूम हो ऑटोमोटिव चिप्स के शीर्ष सप्लायर रेनेसन इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन द्वारा चलाए जा रहे एक प्रमुख चिप उत्पादक संयंत्र में आग लगने से कंप्यूटर चिप की लगातार कमी बनी हुई है. 



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज