• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • 1 दिसंबर से लागू होगा 'One nation, one Fastag' नियम, जानें क्या है और कैसे करेगा काम

1 दिसंबर से लागू होगा 'One nation, one Fastag' नियम, जानें क्या है और कैसे करेगा काम

स्कीम लागू होने के बाद पूरे देश कोई भी वाहन कहीं भी बिना कैश में टॉल प्लाज़ा दिए ट्रैवल कर सकेगा.

स्कीम लागू होने के बाद पूरे देश कोई भी वाहन कहीं भी बिना कैश में टॉल प्लाज़ा दिए ट्रैवल कर सकेगा.

फास्टैग को सभी टोल प्लाज़ा (Toll Plaza) और कुछ बैंकों से ऑनलाइन खरीदा जा सकता है. इसके अलावा आप इसे अमेज़न इंडिया (Amazon India) से भी खरीद सकते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने सोमवार को आयोजित इंडियन मोबाइल कांग्रेस (Indian Mobile Congress) में 'वन नेशन वन फास्टैग' (One Nation One FASTags) स्कीम की शुरुआत की. ये स्कीम 1 दिसंबर 2019 से पूरे देश में लागू हो जाएगी. यह स्कीम लागू होने के बाद पूरे देश में कोई भी वाहन बिना कैश में टोल दिए कहीं भी ट्रैवल कर सकेगा. सरकार लगातार कैशलेस सिस्टम को बढ़ावा दे रही है और ट्रांसपोर्ट सेक्टर में फास्टैग इसका सबसे बड़ा उदाहरण है.

    'एक देश एक फास्टैग' विषय पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गडकरी ने बताया कि अभी देश में राष्ट्रीय राजमार्गों पर कुल 527 टोल प्लाजा हैं, जिनमें से 380 टोल प्लाजा की सभी लेन फास्टैग से लैस हो गई हैं. बाकी लेनों को भी फास्टैग से लैस किया जा रहा है. एक दिसंबर से देश के सभी टोल प्लाजा पर ऐसी व्यवस्था हो जाएगी. फास्टैग की खूबियां बताते हुए उन्होंने कहा कि फास्टैग की व्यवस्था लागू होने के बाद टोल प्लाजा पर जाम नहीं लगेगा जिससे लोगों का समय भी बचेगा.

    ऐसे पाएं फास्टैग-
    केवाईसी (KYC) के लिए जरूरी आईडी प्रूफ जैसे पैन कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस देने के बाद आपका फास्टैग अकाउंट बन जाता है. इसके लिए पासपोर्ट साइज़ की फोटो की भी जरूरत होती है. फास्टैग को सभी टोल प्लाज़ा और कुछ बैंकों से ऑनलाइन खरीदा जा सकता है. इसके अलावा आप टोल प्लाजा को अमेज़न इंडिया से भी खरीद सकते हैं. ऑफिशियल वेबसाइट के मुताबिक वन-टाइम टैग डिपॉज़िट की राशि जमा करके इसे लिया जा सकता है. कार, जीप और वैन के लिए यह 200 रुपये जबकि ट्रक और ट्रैक्टर के लिए यह 500 रुपये है.

    ऐसे करें रिचार्ज-
    फास्टैग को रिचार्ज करने के लिए आप क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, आरटीजीएस और नेट बैंकिंग का प्रयोग कर सकते हैं. आप अपने फास्टैग खाते में कम से कम 100 रुपये और ज्यादा से ज्यादा एक लाख रुपये तक रख सकते हैं.

    ऐसे करता है काम-
    बता दें कि फास्टैग वाहन के विंडस्क्रीन में लगाया जाता है. इसमें रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटीफिकेशन (आरएफआईडी) लगा होता है. इससे जैसे ही आपका वाहन टोल प्लाज़ा के पास पहुंचता है वैसे ही सेंसर स्क्रीन पर लगा हुआ फास्टैग सेंस कर लेगा और आपके अकाउंट से पैसे कट जाएंगे.

    हालांकि, इसमें होने वाली तकनीकी गड़बड़ियों को लेकर भी खबरें आ रही थीं. न्यू इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक नेशनल हाईवे अथॉरिटी के अधिकारियों ने कहा कि इन कमियों को दूर कर लिया जाएगा और ज्यादा से ज्यादा कर्मचारियों को तैनात किया जाएगा.

    यह भी पढ़ें-

    Jawa ने लॉन्च की ये स्पेशल बाइक, रॉयल एनफील्ड क्लासिक को देगी टक्कर
    Tata ने लॉन्च की लंबी दूरी तक चलने वाली नई Tigor EV, जानें क्या है खासियत
    माइलेज,ड्राइव और परफॉर्मेंस में कैसी है S-Presso, पढ़ें पूरा रिव्यू
    ये बड़ी कंपनी दे रही है इलेक्ट्रिक स्कूटर्स पर भारी छूट, जानें क्या है ऑफर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज