• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • सावधान: इस राज्य में एक साल के अंदर 5 बार कटा चालान तो अब रद्द होगा परमिट

सावधान: इस राज्य में एक साल के अंदर 5 बार कटा चालान तो अब रद्द होगा परमिट

नियम तोड़ने वाले वाहन चालकों की ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर उन पर सख्ती की जाए.

नियम तोड़ने वाले वाहन चालकों की ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर उन पर सख्ती की जाए.

योगी सरकार (Yogi Government) के निर्देश के बाद परिवहन विभाग (Transport Department) ने सख्ती शुरू कर दी है. शासन की तरफ से निर्देश दिया गया है कि अगर एक साल के अंदर (Within a Year) जिन बसों का पांच बार चालान (Five challans) हुआ है तो उनका परमिट (Bus Permit Canceled) तुरंत ही रद्द कर दिया जाए.

  • Share this:

    गाजियाबाद. उत्तर प्रदेश में नए मोटर व्हीकल एक्ट (New Motor Vehicle Act) के उल्लंघन करने पर अब कठोर कार्रवाई होगी. योगी सरकार (Yogi Government) के निर्देश के बाद परिवहन विभाग (Transport Department) ने सख्ती शुरू कर दी है. शासन की तरफ से निर्देश दिया गया है कि अगर एक साल के अंदर (Within a Year) जिन बसों का पांच बार चालान (Five challans) हुआ है तो उनका परमिट (Bus Permit Canceled) तुरंत ही रद्द कर दिया जाए. इसके साथ ही परिवहन विभाग को ओवर स्पीड और शराब पी (Over Speed Drunk Drive) कर गाड़ी चलाने वालों के खिलाफ भी सख्त रुख अख्तियार करने का निर्देश जारी किया गया है. शासन की तरफ से निर्देश में यह भी कहा गया है कि हर हाल में सुनिश्चित करें कि गाड़ियों में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट (HSRP) लगी हो.

    साल में पांच बार हुआ चालान तो लाइसेंस रद्द
    राज्य में लगातार हो रहे बस हादसों को देखते हुए शासन की तरफ से यह निर्देश आया है. पिछले दिनों ही बाराबंकी में भयंकर बस हादसा हुआ था. इस हादसे में 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. यूपी सरकार ने अपने निर्देश में कहा है कि राज्य में अब तक जिन बसों को परमिट जारी भी किए गए हैं, उनकी जांच दोबारा से शुरू की जाए. साथ ही नियम तोड़ने वाले वाहन चालकों की ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर उन पर सख्ती की जाए.

    Bus Permit Canceled, Yogi Government, Transport Department, Within a Year, Five challans, New Motor Vehicle Act, small mistake, driving license canceled, driving license suspended, new motor vehicle rules, Traffic Department, Ministry of Road Transport and Highways, DL, Vehicle RC, Vehicle Documents, परमिट रद्द, बस का परमिट रद्द, योगी सरकार, परिवहन विभाग, परिवहन विभाग की सख्ती, गाजियाबाद, यूपी शासन, एक साल के अंदर, बसों का पांच बार चालान, ड्राइविंग लाइसेंस, नए मोटर व्‍हीकल रूल्‍स, केंद्र सरकार, नया मोटर व्‍हीकल कानून, आरसी, वाहन इंश्‍योरेंस, ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन के डॉक्‍युमेंट्स, ड्राइविंग लाइसेंस रद्द, ट्रैफिक डिपार्टमेंट, मॉडर्न टेक्‍नोलॉजी, ऑनलाइन निगरानी, प्राइवेट और कमर्शियल व्‍हीकल्‍स, ड्राइवरों का व्‍यवहार, सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय, केंद्र सरकार, Permit will be canceled if cut five times challan a year New Motor Vehicle Act Yogi government nodrss

    लगातार हो रहे बस हादसों को देखते हुए शासन की तरफ से यह निर्देश आया है.(सांकेतिक फोटो)

    नए मोटर कानून को सख्ती से लागू किया जा रहा है
    बता दें कि देश में नए मोटर व्हीकल कानून लागू हो जाने के बाद कई तरह के जुर्माना और लाइसेंस रद्द के साथ काफी सख्त प्रावधान किए गए हैं. केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ड्राइविंग लाइसेंस और इससे जुड़ी सभी सेवाओं को लेकर समय-समय पर दिशा निर्देश जारी करती रहती है. नए मोटर व्‍हीकल एक्‍ट के तहत मॉडर्न टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल कर ड्राइवरों के व्‍यवहार की निगरानी करने की व्‍यवस्‍था भी की गई है. साथ ही उनके व्‍यवहार को भी परिभाषित किया है.

    ये भी पढ़ें: नैनो यूरिया को लेकर मोदी सरकार का मास्टर प्लान तैयार, अब ऐसे GameChanger साबित होगा यह तकनीक

    ड्राइविंग लाइसेंस भी ऐसे होंगे अब रद्द
    यातायात पुलिस को अधिकार दिया गया है कि वह डीएल (DL) ही नहीं खराब व्‍यवहार वाले ड्राइवरों के वाहन का रजिस्‍ट्रेशन भी रद्द कर सकती है. अगर बस की बात करें तो बस की बॉडी नियम के मुताबिक होनी चाहिए. अगर आप बस चलाने का परमिट लिया है तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि बस जर्जर स्थिति में सड़क पर नहीं चले. इसके लिए परिवहन विभाग ने सभी जिलों के एग्जिट और एंट्री पांइट पर विशेष अभियान चला कर इन बसों को जप्त कर रही है. साथ ही जो बसें डिपो में सीज कर खड़े हैं उनकी निलामी की जा रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज