सेकेंड हैंड कार खरीदना हुआ और आसान, Piramal Retail Finance ने शुरू की रिटेल लेंडिंग

सेकंड हैंड कार का बाजार.

सेकंड हैंड कार का बाजार.

पीरामल रिटेल फाइनेंस के सीईओ जयराम श्रीधरन ने कहा कि कंपनी ने कंज्यूमर और यूज्ड कार फाइनेंस के बिजनेस में कदम रखा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. पीरामल ग्रुप (Piramal Group) की फाइनेंस कंपनी पीरामल रिटेल फाइनेंस (Piramal Retail Finance) ने रिटेल लेंडिंग मार्केट में एंट्री मारी है और कंपनी अब ग्राहकों को पुरानी कार यानी सेकेंड हैंड कार खरीदने के लिए लोन देगी.

Cars24 के साथ साझेदारी में पुराने कार खरीदने के लिए फाइनेंस

पीरामल रिटेल फाइनेंस के सीईओ जयराम श्रीधरन ने कहा कि कंपनी ने कंज्यूमर और यूज्ड कार फाइनेंस के बिजनेस में कदम रखा है. कंपनी Cars24 के साथ साझेदारी में पुराने कार खरीदने के लिए फाइनेंस की सुविधा देगी. इसके अलावा फाइनेंसिंग के लिए कंपनी ने ZestMoney के साथ भी टाई-अप किया है. कंपनी की योजना अगले 1 साल में 3000 करोड़ रुपये का लोन बांटने की है.

टू-व्हीलर खरीदने के लिए भी लोन देगी कंपनी
पीरामल रिटेल फाइनेंस के सीईओ जयराम श्रीधरन ने कहा कि अगले 12 महीने यानी 1 साल में कंपनी की योजना अपने पोर्टफोलियो में 4 नए लोन सेगमेंट जोड़ने की है. कंपनी पुरानी कार खरीदने के लिए लोन देने के साथ टू-व्हीलर खरीदने के लिए भी लोन देगी.

जयराम श्रीधरन ने बताया कि इसके अलावा कंपनी की योजना अपने ग्राहकों को एजुकेशन लोन, छोटे बिजनेस के लिए अनसिक्योर्ड लोन और लोन अगेंस्ट सिक्योरिटीज (LAS) यानी शेयर के बदले लोन देने की है. अपनी योजना के सफलतापूर्वक लागू करने के लिए कंपनी वित्त वर्ष 2021-22 में सेल्स, क्रेडिट अंडरराइटिंग और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में 1000 लोगों को नौकरी देगी.

रेगुलेटरी अप्रूवल के बाद DHFL का अधिग्रहण करेगी कंपनी



जयराम श्रीधरन ने बताया कि पीरामल ग्रुप ने डीएचएफएल की बोली जीतने के बाद कंपनी के अधिग्रहण की सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं, कुछ रेगुलेटरी अप्रूवल का इंतजार है, जिसके बाद कंपनी डीएचएफएल का अधिग्रहण कर लेगी. उन्होंने बताया कि इस अधिग्रहण के बाद पीरामल ग्रुप का लोन बुक 40% बढ़ जाएगा. बता दें कि अभी पीरामल ग्रुप का टोटल लोन बुक 45,000 करोड़ रुपये का है, जिसमें 5000 करोड़ रुपये यानी 11% रिटेल बिजनेस से है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज