अपना शहर चुनें

States

Diesel Car से दिल्ली जाने का है प्लान, तो जानें ये नियम नहीं तो जब्त होगी कार!

एनजीटी और सुप्रीम कोर्ट ने 10 साल पुरानी डीजल कार पर प्रतिबंध लगाया.
एनजीटी और सुप्रीम कोर्ट ने 10 साल पुरानी डीजल कार पर प्रतिबंध लगाया.

यदि आपके पास 10 साल पुराना डीजल वाहन और 15 साल पुराना पेट्रोल वाहन है. तो आप अपने वाहन को दूसरे प्रदेश में बेच सकते है. इसके लिए आप ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का प्रयोग कर सकते है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 23, 2021, 5:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आप अपनी डीजल कार से देश की राजधानी में जाने का प्लान कर रहे है. तो जरा रुक कर इस खबर को जरूर पढ़ लें. क्योंकि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) और सुप्रीम कोर्ट (SC) ने दिल्ली सहित एनसीआर में 10 साल पुराने डीजल वाहन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित कर दिए है. यदि सड़क पर इस तरह के वाहन चलते हुए दिखाई दिए. तो उन्हें पुलिस के जरिए जब्त कर लिया जाएगा और आप पर तगड़ा जुर्माना भी लगेगा. आइए जानते है इस नियम के बारे में...

प्रदूषण की वजह से लगाया प्रतिबंध - सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी ने दिल्ली में 10 साल पुराने डीजल वाहन और 15 साल पुराने पेट्रोल वाहन के चलने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है. ऐसे वाहनों पर प्रतिबंध प्रदूषण की बढ़ती समस्या को ध्यान में रख कर लगाया गया है. यदि आप दिल्ली के रहने वाले है और आपके पास 10 साल पुराना डीजल वाहन और 15 साल पुराना पेट्रोल वाहन है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है. क्योंकि हम आपको इससे बचने का रास्ता बता रहे है.

यह भी पढ़ें: Royal Enfield Classic 350 : 4,287 रुपये की EMI पर घर लाए रॉयल एनफील्ड बाइक, यहां देखें डिटेल्स



ये करें अपने पुराने वाहन का- यदि आपके पास 10 साल पुराना डीजल वाहन और 15 साल पुराना पेट्रोल वाहन है. तो आप अपने वाहन को दूसरे प्रदेश में बेच सकते है. इसके लिए आप ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का प्रयोग कर सकते है. यहां आपको अपने पुराने वाहन की अच्छी डील मिल सकती है.
यह भी पढ़ें: भारत में मारुति 800 पाक में मेहरान, जानिए आपकी पंसदीदा काराें के क्या है पाकिस्तान में नाम ..

केवल इन जिलों के लिए मिलेगी NOC -  आप दिल्ली में रजिस्टर्ड 10-15 साल पुराने डीजल वाहन को किसी अन्य राज्य में ट्रांसफर या बेचना चाहते हैं तो कुछ राज्यों के कुछ जिलों में ही ऐसा कर सकते हैं. राजस्थान और मेघालय के सभी जिलों में आप ऐसे वाहनों को ट्रांसफर कर सकते हैं अथवा बेच सकते हैं. इसके अलावा बिहार के 18 जिलों के लिए आप एनओसी प्राप्त कर सकते हैं. उत्तर प्रदेश के 33 जिलों में भी आप एनओसी प्राप्त कर सकते हैं. पश्चम बंगाल में केवल बीएस-4 वाहनों के लिए ही एनओसी प्राप्त किया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज