Home /News /auto /

Renault Flying Car AIR4: रेनॉ ने पेश की उड़ने वाली कॉन्‍सेप्‍ट कार, देखें क्‍या हैं इसकी खूबियां

Renault Flying Car AIR4: रेनॉ ने पेश की उड़ने वाली कॉन्‍सेप्‍ट कार, देखें क्‍या हैं इसकी खूबियां

Renault की कॉन्‍सेपट कार एयर-4 उड़ान भरने के लिए तैयार है. (फोटो साभार: Youtube)

Renault की कॉन्‍सेपट कार एयर-4 उड़ान भरने के लिए तैयार है. (फोटो साभार: Youtube)

Renault Flying Car AIR4: ऑटोमेकर रेनॉ (Renault) 90,000 एमएएच की बैटरी का इस्‍तेमाल कर कॉन्‍सेप्‍ट फ्लाइंग कार एयर-4 (concept flying car AIR4) को 58 मील प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार पर उड़ाने की योजना पर काम कर रही है. इसकी उड़ान की अधिकतम ऊंचाई 700 मीटर होगी. ये कॉन्‍सेप्‍ट कार कंपनी की क्‍लासिक कार रेनॉ 4L की 60वीं वर्षगांठ के मौके पर पेश की गई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. फ्रांस की मल्‍टीनेशनल ऑटोमोबाइल कंपनी रेनॉ ने अपनी क्‍लासिक कार रेनॉ क्‍वाट्रेल (Renault 4L) की 60वीं वर्षगांठ को मनाने के लिए फ्यूचरिस्टिक एडिशन पेश किया है. ‘द आर्सेनल’ (TheArsenal) की साझेदारी में कंपनी ने अपनी कॉन्‍सेप्‍ट फ्लाइंग मशीन एयर-4 (concept flying car AIR4) का अनावरण किया. ये कॉन्‍सेप्‍ट कार कंपनी की कार रेनॉ क्‍वाट्रेल का फ्लाइंग वर्जन है. कंपनी के मुताबिक, एयर-4 आजादी का प्रतीक है. इसका निर्माण यातायात के जटिल होने के कारण हुआ है.

    कैसी होगी कॉन्‍सेप्‍ट फ्लाइंग कार?
    फ्लाइंग मशीन AIR4 पूरी तरह से कार्बन फाइबर से बनी है. इसकी डिजाइन क्‍लासिक कार रेनॉ-4L कार की तरह ही रखा गया है. रेनॉ ने कहा कि थ्रस्ट या लिफ्ट जैसी नई अवधारणाओं को शामिल करने के लिए फ्लाइंग मशीन की रिजिडीटी को पूरी तरह से अपग्रेड किया गया है. इसमें पहियों की जगह हर कोने में दो-ब्लेड प्रोपेलर दिए गए हैं. रेनॉ की के अनुसार, वाहन का चेसिस रोटा फ्रेम के बीच में मौजूद है. चालक रेनॉ 4 शेल को उठाकर वाहन में सीट तक पहुंच सकता है और इसे चला सकता है.

    ये भी पढ़ें- Electric Vehicles पर कितना किया जा सकता है भरोसा, जानें क्या कहती हैं स्टडीज?

    क्‍या होंगी फ्लाइंग कार की खूबियां?
    रेनॉ की फ्लाइंग कार 22,000 एमएएच की लीथियम पॉलीमर बैटरी से संचालित है. इसकी कुल क्षमता 90,000 एमएएच है. यह 93.6 किमी प्रति घंटा की स्पीड से चल सकती है. फ्लाइंग मशीन 380 किलोग्राम का अधिकतम वेक्टरियल थ्रस्ट प्रदान करती है, जो लगभग 95 किलोग्राम प्रति प्रोपेलर है. रेनॉ की इस फ्लाइंग मशीन को जल्‍द ही सार्वजन‍िक किया जाएगा. ये फ्लाइंग मशीन अगले साल की शुरुआत में संयुक्त राज्य अमेरिका में नजर आने लगेगी.

    ये भी पढ़ें – Tata Punch का मुकाबला करने को पूरी तरह तैयार है Maruti, जानें कैसे?

    क्‍लासिक कार रेनॉ क्‍वाट्रेल ने अपने 60 साल पूरे कर लिए हैं. बता दें इसका निर्माण 1961 और 1992 के बीच में किया गया था. ब्रांड की ओर से इस कार को एक सरल, कुशल और बहुमुखी व्‍हीकल के तौर पर पेश किया गया था. रेनॉ ग्रुप के पूर्व प्रमुख पियरे ड्रेफस ने इसे एक ब्लू जींस कार का नाम दिया था.

    Tags: Auto, Auto News, Autofocus, Automobile, Car Review, Renault

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर