• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • STATUE OF UNITY WILL BECOME THE COUNTRY FIRST ONLY ELECTRIC VEHICLE ZONE KNOW EVERYTHING KANND

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी बनेगा देश का पहला ऑनली इलेक्ट्रिक व्हीकल जोन, जानिए सबकुछ

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी.

सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा के आसपास रहने वाले स्थानीय निवासियों को इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर वाहन खरीदने में सरकार सहायता प्रदान करेगी. SOUADTGA के कहां कि वो स्थानीय निवासियों को इसमें सब्सिडी प्रदान करेगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. गुजरात का स्टैच्यू ऑफ यूनिटी क्षेत्र भारत का पहला इलेक्ट्रिक व्हीकल-ऑनली जोन बनने के लिए पूरी तरह से तैयार है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस कदम की घोषणा करने के एक दिन बाद, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी एरिया डेवलपमेंट एंड टूरिज्म गवर्नेंस अथॉरिटी (SOUADTGA) ने कहा है कि यह गुजरात के केवड़िया में स्थित क्षेत्र को वाहनों के प्रदूषण से मुक्त क्षेत्र में विकसित करेगा.

    अथॉरिटी ने रविवार को एक बयान जारी कर कहा कि केवड़िया में 182 मीटर ऊंचे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के आसपास के क्षेत्र को अलग अलग फेज में इलेक्ट्रिक-व्हीकल ऑनली जोन में बदला जाएगा. इस छेत्र में सिर्फ इलेक्ट्रिक वाहनों को ही चलने की अनुमति दी जाएगी, सैलानियों के लिए भी जिन बसों का इस्तेमाल किया जायेगा वो भी बैटरी वाली होंगी. शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि भविष्य में केवड़िया में केवल बैटरी आधारित बसें, दोपहिया और चार पहिया वाहन चलाने के लिए कदम उठाए जायेंगे.

    यह भी पढ़ें: Maruti और Hyundai की ये तीन नई गाड़ियां जल्द होगी लॉन्च, जानिए क्या होंगे खास फीचर्स

    इस योजना के तहत सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा के आसपास रहने वाले स्थानीय निवासियों को इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर वाहन खरीदने में सरकार सहायता प्रदान करेगी. SOUADTGA के कहां कि वो स्थानीय निवासियों को इसमें सब्सिडी प्रदान करेगी. SOUADTGA ने कहा कि यहां के अधिकारियों को ये बात सुनिश्चित करनी होगी कि यहाँ कोई भी पेट्रोल डीजल के वाहन न चलें.

    यह भी पढ़ें: Volkswagen ने मानसून कार केयर सर्विस का ऐलान किया, इसमें डिस्काउंट के साथ मिलेगी ये सुविधाएं

    एजेंसी के अनुसार शुरू में प्राधिकरण क्षेत्र में सिर्फ 50 ई-रिक्शा चलाने की अनुमति होगी. जिसमे महिला चालाक को ई-रिक्शा के लिए वरीयता दी जाएगी. जिसके लिए महिला ड्राइवर को मुफ्त में स्किल  डेवलपमेंट सेंटर केवडिआ में ट्रेनिंग दी जाएगी. इस के साथ ही एक अलग से चार्जिंग स्टेशन और कारखाना भी बनाया जायेगा. SOUADTGA ने आगे कहा कि इस जगह को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए पूरे प्रयास किये जायेंगे. केवडिया में 2 हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर प्लांट भी मौजूद हैं, जिससे काफी बिजली का उत्पादन होता है.

    ई-रिक्शा चलाने वाली कंपनी को एक मोबाइल ऐप भी बनाने को कहा गया है, जिसमे टूरिस्ट को इसमें लगने वाले किराए की जानकारी मिल सके. केवडिया देश का पहला ऐसा टूरिस्ट स्पॉट होगा जो प्रदूषण मुक्त होगा. यहाँ ECO-फ्रेंडली बाइक भी लॉन्च की जाएँगी, जिनका 2 घंटे का किराया मात्र 1,500 रुपए होगा.
    Published by:Kanhaiya Pachauri
    First published: