लाइव टीवी

ऑटो सेक्टर को मजबूत करने के लिए सरकार ने उठाए ये कदम, जानें क्या बोलीं वित्तमंत्री

भाषा
Updated: February 11, 2020, 5:39 PM IST
ऑटो सेक्टर को मजबूत करने के लिए सरकार ने उठाए ये कदम, जानें क्या बोलीं वित्तमंत्री
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि 31 मार्च 2020 तक खरीदे गए बीएस-4 मार्क वाहन रजिस्ट्रेशन की पूरी अवधि तक परिचालन के लिए मान्य रहेंगे

  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार ने ऑटोमोबाइल सेक्टर (auto sector) के सामने मौजूद चुनौतियों को स्वीकारते हुए कहा है कि उसने इस सेक्टर को मजबूती प्रदान करने के लिए कई कदम उठाए हैं, जिनमें मार्च 2020 तक खरीदे गए बीएस-4 (bs-4) मार्क वाहनों के रजिस्ट्रेशन की पूरी अवधि तक परिचालन के लिए मान्य रहने का फैसला शामिल है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने लोकसभा में 2020-21 के केंद्रीय बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि ऑटो सेक्टर में इस तरह की बेचैनी है कि इस क्षेत्र को मदद मिल रही है या नहीं.

मान्य रहेंगी पेट्रोल-डीजल गाड़ियां
उन्होंने कहा कि इस सेक्टर की गंभीर चुनौतियों को हमने माना है. इसलिए हमने कदम उठाए हैं. एकमुश्त पंजीकरण शुल्क को जून 2020 तक डिफर किया जा रहा है. वित्त मंत्री ने कहा कि 31 मार्च 2020 तक खरीदे गए बीएस-4 मार्क वाहन रजिस्ट्रेशन की पूरी अवधि तक परिचालन के लिए मान्य रहेंगे. वाहनों पर मूल्य ह्रास (डेप्रीशिएशन) की दर बढ़ा दी गई है.

ईवी पर जीएसटी किया कम

वित्त मंत्री ने कहा कि ऑटो सेक्टर में मांग बढ़ाने के लिए सरकारी विभागों पर पुराने वाहनों को बदलने के लिए नए वाहनों की खरीदने की रोक हटाई गई है. सीतारमण ने कहा कि बिजली से चलने वाले वाहनों के प्रोत्साहन के लिए एक अगस्त 2019 से सभी इलेक्ट्रिक वाहनों पर जीएसटी दर को 12 प्रतिशत से कम कर के पांच प्रतिशत कर दिया गया है और स्थानीय निकायों द्वारा 12 सीट से बड़े वाहनों की खरीद पर जीएसटी हटा लिया गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 5:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर