जानिए दुनिया के मशहूर गाड़ियों के ब्रांड नाम के पीछे की कहानी, BMW से टेस्ला तक काफी रोचक है किस्सा

मशहूर गाड़ियों के ब्रांड नाम के पीछे की कहानी

मशहूर गाड़ियों के ब्रांड नाम के पीछे की कहानी

दुनिया के मशहूर कार कंपनियां अपने ब्रांड्स के नाम के पीछे क्या सोच रख कर उनके नाम रखते है. कई कार कंपनियां जैसे की टाटा, फोर्ड, स्कोडा और टोयोटा ब्रांड्स अपने संस्थापकों के नाम पर है, लेकिन ऐसी और भी कंपनियां है जिनके बारे में सोचते होंगे की इनका नाम कैसे पड़ा तो आइये आज आपको इन कारो के ब्रांड नाम के पीछे की स्टोरी बताते है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 5:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: किसी भी ब्रांड या इंसान के नाम के पीछे उस नाम से जुड़े कुछ न कुछ स्पेशल उस ब्रांड या इंसान में होता है. दुनिया में कई ब्रांड्स है, जिनका नाम भी अजब गजब होते है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि, दुनिया के मशहूर कार कम्पनिया अपने ब्रांड्स के नाम के पीछे क्या सोच रख कर उनके नाम रखते है. कई कार कम्पनिया जैसे की टाटा, फोर्ड, स्कोडा और टोयोटा ब्रांड्स अपने संस्थापकों के नाम पर है, लेकिन ऐसी और भी कंपनियां है जिनके बारे में सोचते होंगे की इनका नाम कैसे पड़ा तो आइये आज आपको इन कारो के ब्रांड नाम के पीछे की स्टोरी बताते है.

Datsun

Datsun जापानी कंपनी Nissan की ही एक सिस्टर ब्रांड है. शुरू में इसे DAT का नाम दिया गया था, जिसके पीछे इसके फाइनेंसर्स डेन, आओयामा और टेकूची के शुरुआती नाम थे. बाद में कंपनी ने इस ब्रांड की छोटी कार SON के आधार पर इसका नाम DATSON लेकिन बाद में जब कंपनी को पता लगा कि, जापानी भाषा में SON का मतलब नुकसान होता है तो उसने इसका नाम बदलकर DATSUN कर दिया.

यह भी पढ़ें : सरकार का खास प्लान, नई कार खरीदने पर मिलेगी टैक्स में 25 फीसदी की छूट, दिखाना होगा बस ये सर्टिफिकेट
Youtube Video


Tesla

अमेरिकी बिलिनियर एलन मस्क की ब्रांड टेस्ला का नाम सर्बियाई आविष्कारक और इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र के मशहूर वैज्ञानिक निकोला टेस्ला के नाम पर रखा गया है.



Mercedes-Benz

इस ब्रांड के नाम में Benz तो इसके फाउंडर से लिया गया है. लेकिन Mercedes नाम के पीछे की कहानी थोड़ी लम्बी है, यह नाम ऑस्ट्रिया के बिजनेसमैन एमिल जेलिनेक (Emil Jellinek) के बेटी के नाम से लिया गया है.

Rolls-Royce

ब्रिटिश कंपनी Rolls-Royce का नाम भी अपने दो फाउंडर्स पर पड़ा है, जो की फेडरिक हेनरी रॉयस और उनके दोस्त चार्ल्स स्टीवर्ट रोल्स के सरनेम को मिलके बना है.

KIA

साउथ कोरियन ब्रांड KIA ने हाल में ही भारतीय बाजार में एंट्री ली है. इस ब्रांड के नाम के पीछे दो कोरियाई वर्ड्स है, जो कि 起 (ki) और 亞 (a) है. और कोरिया में इसका मतलब एशिया से उदय होने वाला और अंग्रेजी में इसे “Rising from the East” होता है.

Volkswagen

जर्मन तानाशाह अडोल्फ हिटलर के आग्रह पर Beetle ने काफी किफायती ब्रांड आम लोगो के लिए लॉन्च किया था. जर्मनी की ही एक और कार Volkswagen दो शब्दों से मिलकर बना है, Volks और wagen फॉक्स का अर्थ होता है जनता और वैगन का अर्थ होता है वाहन'.

Volvo

स्विडिश कंपनी वाहन के क्षेत्र में आने से पहले बाल बेयरिंग बनाती थी और इसका नाम Svenska Kullagerfabriken (SKF) था. बाद में ऑटो सेक्टर में आने के बाद कंपनी ने अपना ट्रेडमार्क VOLVO के नाम से रजिस्टर करवाया. जिसका लैटिन में अर्थ 'roll' होता है.

Hyundai

साउथ कोरिया की ही ब्रांड हुंडई का मतलब कोरिया में “वर्तमान युग” या “आधुनिकता” है, और इसी पर इस ब्रांड का नाम पड़ा है.

यह भी पढ़ें: बाहुबली फेम प्रभास ने खरीदी करोड़ो की Lamborghini कार, गजब की है स्पीड और फीचर - देखें VIDEO

FIAT

फ़िएट एक इटालियन ब्रांड है, इसने अपने वाहनों का निर्माण ट्यूरिन स्थित फैक्ट्री इटैलियन ऑटोमोबाइल्स फैक्ट्री ऑफ ट्यूरिन में किया था, जिसे इटालियन में (Fabbrica Italiana Automobili Torino) कहा जाता है, इसी का संक्षिप्त रूप आज FIAT है.

BMW

जर्मन ब्रांड BMW के ब्रांड नाम के पीछे जर्मनी के बारिया (Bavaria) इलाका है. इसी इलाके कंपनी में इंजनों का निर्माण करती थी, उस दौरान इस कंपनी का नाम बवेरियन मोटेरन वर्के (Bayerische Motoren Werke) हुआ करता था. जिसका अंग्रेजी में अनुवाद बावरिया मोटर वर्क होता है. इसी का संक्षिप्त नाम आज BMW के तौर पर जाना जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज