• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • Tesla भारत में बेचे मेड इन इंडिया इलेक्ट्रिक कार, सरकार कंपनी को रियायत देनें के लिए तैयार

Tesla भारत में बेचे मेड इन इंडिया इलेक्ट्रिक कार, सरकार कंपनी को रियायत देनें के लिए तैयार

नितिन गडकरी ने टेस्ला से मेक इन इंडिया कार बनाने के लिए कहा.

नितिन गडकरी ने टेस्ला से मेक इन इंडिया कार बनाने के लिए कहा.

केंद्र सरकार टेस्ला को रियायतों के साथ साथ टेस्ला द्वारा इम्पोर्ट फी को काम करने के आग्रह पर भी विचार कर सकते है, लेकिन इसके लिए कंपनी को देश में मैनुफैक्चरिंग फैसिलिटी सेटअप करना होगा.

  • Share this:

    नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी शुक्रवार को इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2021 में कहा कि उन्होंने टेस्ला कंपनी से भारत में ही इलेक्ट्रिक कार का निर्माण करने को बोला है, उन्होंने कहा कि इसके लिए जरुरी सहयोग जैसे कि मैनुफैक्चरिंग फैसिलिटी आदि के लिए भारत सरकार हर तरह से पूर्ण रूप से सहयोग करने को तैयार है. उन्होंने आगे कहा कि ” मैंने टेस्ला से कहा है कि आप चीन में निर्मित इलेक्ट्रिक कारो को भारत में न बेचे, आप हमारे यहां कार बना के लोकल मार्केट के साथ साथ बाहर के देशो में भी एक्सपोर्ट करे”.

    सरकार रियायत देने को तैयार, लेकिन करनी पड़ेगी यह काम
    केंद्र सरकार टेस्ला को रियायतों के साथ साथ टेस्ला द्वारा इम्पोर्ट फी को काम करने के आग्रह पर भी विचार कर सकते है, लेकिन इसके लिए कंपनी को देश में मैनुफैक्चरिंग फैसिलिटी सेटअप करना होगा. अभी फ़िलहाल भारत में 30 लाख रूपये से अधिक कीमत की इम्पोर्टेड कारो पर इंश्योरेंस और शिपिंग कॉस्ट मिलाके लगभग 100 प्रतिशत टैक्स लगता है, वही इससे काम कीमत की कारो पर लगभग 60 प्रतिशत टैक्स लगता है.

    यह भी पढ़ें: जानिए ड्राइविंग के दौरान कब यूज करनी होती है High Beam और Low Beam लाइट, पढ़िए हादसों से कैसे बचें

    एलन मस्क ने की थी इम्पोर्ट ड्यूटी घटने की रिक्वेस्ट
    टेस्ला कंपनी के प्रमुख एलन मस्क ने कंपनी की इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर इम्पोर्ट टैक्स को 100 फीसदी से घटाकर 40 फीसदी करने की गुजारिश की थी, हाल ही में एलन मस्क ने ट्वीट कर के कहा था कि ” वह भारत में ईवी लांच करना चाहते है, लेकिन दुनिया में भारत में सबसे ज्यादा इम्पोर्ट ड्यूटी लगती है. टेस्ला ने केंद्र सरकार से ईवी पर इंपोर्ट टैक्स को 100 फीसदी से घटाकर 40 फीसदी करने की रिक्वेस्ट की है.
    इसके अलावा कंपनी कि योजना कर्नाटक में अपनी मैनुफैक्चरिंग यूनिट सेटअप की भी है.

    यह भी पढ़ें: Maruti Suzuki के फैन के लिए बुरी खबर! कंपनी के प्रोडक्शन में आई बड़ी गिरावट, जानिए वजह

    भारत का ऑटो मार्केट दुनिया में हो सकता है नंबर वन
    गडकरी ने आगे कहा कि टेस्ला के पास मैनुफैक्चरिंग फैसिलिटी स्थापित करने का सबसे बेस्ट चांस है, क्यूंकि देश में ईवी की डिमांड हाई है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि ऑप्शनल फ्यूल और टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से भारतीय ऑटोमोबाइल सेक्टर दुनिया में नंबर एक हो सकता है. उन्होंने कहा कि “भारतीय ऑटोमोबाइल सेक्टर को दुनिया में इस सेगमेंट का लीडर बनाना उनकी महत्वकांक्षी योजना है, और मुझे विश्वाश है कि हम पांच साल के अंदर गैर पारम्परिक फ्यूल और टेक्नोलॉजी का उपयोग करके दुनिया में नंबर पर होंगे”.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज