तमिलनाडुु के इस शख्स ने 20 हजार खर्च कर बनाई इलेक्ट्रिक साइकिल, 10 रुपये में चलती है 50 किमी, जानें सबकुछ

यह 30 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड तक जा सकती है

इस इलेक्ट्रिक साइकिल में एक मोटर, बैटरी कंट्रोलर और ब्रेक कट ऑफ स्विच लगाया गया है. ई-साइकिल की रेंज 50 किमी है और यह 30 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड तक जा सकती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है. यह बात हम सभी जानते है समय-समय पर अलग अलग ऐसे कामों को करके लोग सबको हैरान कर देते है जिसके बारे में हम सोच भी नहीं सकते. ऐसा ही एक काम तमिलनाडू के एक शख्स ने किया है. जिस समय देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही हो उस समय इस शख्स ने ऐसी इलेक्ट्रिक साइकिल तैयार की है जो केवल 10 रुपये में 50 किमी तक की यात्रा तय कर सकती है. इसे एस भास्करन नाम के एक 33 वर्षीय व्यक्ति द्वारा तैयार किया गया है. द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, तमिलनाडु के विल्लुपुरम के पकामेडु गांव के रहने वाले भास्करन ने एक इलेक्ट्रिक साइकिल तैयार की है, जो सिर्फ एक यूनिट में 50 किमी तक जा सकती है.

    कोविड के दौरान अपनी नौकरी छोड़ दी थी
    मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा धारक, भास्करन ने कृषि पर ध्यान केंद्रित करने के लिए पिछले साल COVID-19 महामारी के दौरान अपनी नौकरी छोड़ दी थी. क्षेत्र में सामान्य कार्यों से अपने खाली समय के दौरान, वह इलेक्ट्रिक साइकिल्स को पढ़ और शोध कर रहे थे. उनकी दिलचस्पी तब और बढ़ गई जब उन्होंने अपना इलेक्ट्रिक वाहन डिजाइन करने का फैसला किया और इसके लिए उन्होंने महज 2000 रुपये में एक पुरानी साइकिल खरीदी.

    ये भी पढ़ें - #Tatastories: कहानी उस महिला की जिसने टाटा की कंपनी को डूबने से बचाने के लिए बेच डाला था अपना बेशकीमती सामान

    स्पेयर पार्ट्स खरीदने के लिए और 18,000 रुपये खर्च किए
    भास्करन ने अन्य उपकरण और अन्य स्पेयर पार्ट्स खरीदने के लिए और 18,000 रुपये खर्च किए, जो उन्हें ई-साइकिल के काम करने के लिए आवश्यक थे, और सब कुछ ठीक होने लगा. जो बात भास्करन के शोध को अधिक महत्वपूर्ण और दिलचस्प बनाती है, वह यह है कि यह सस्ती है. ई-साइकिल का पूरा सेटअप मात्र 20,000 रुपये में तैयार हो गया था और इस तरह की ई-साइकिल को बनाने के लिए किसी भारी उपकरण या मशीनरी की जरूरत नहीं थी.

    टॉप स्पीड 30 किमी प्रति घंटा
    अपने स्वयं के डिज़ाइन किए गए ई-साइकिल के बारे में बोलते हुए, भास्करन ने कहा कि इसमें एक इलेक्ट्रिक मोटर, बैटरी कंट्रोलर और ब्रेक कट ऑफ स्विच लगाया गया था. ई-साइकिल की रेंज 50 किमी है और यह 30 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड तक जा सकती है.

    ये भी पढ़ें - 2021 Honda CB650R बाइक के फीचर्स, डिजाइन और स्पेसिफिकेशन देखिए यहां

    जल्द ही पेटेंट के लिए आवेदन करेंगे
    भास्करन ने कहा कि वह अपने इनोवेशन को और आगे ले जाना चाहते हैं और जल्द ही पेटेंट के लिए आवेदन करेंगे. वह अपने नवाचारों के लिए पैसा कमाने और इस तरह के और अधिक उत्पादों को विकसित करने के लिए अपने शोध को आगे बढ़ाने की उम्मीद करता है. भास्करन चलते-फिरते विकलांग लोगों की मदद करना चाहते हैं और एक किफायती इलेक्ट्रिक व्हीलचेयर विकसित करना चाहते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.