ये हैं टॉप 5 डीजल कार जो पीती हैं कम तेल, जानें कितना देती हैं माइलेज

तेल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए आजकल हर आदमी वो गाड़ी लेने का प्लान करता है, जिसका माइलेज अच्छा हो और वो कम से कम तेल पिए

News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 6:37 PM IST
ये हैं टॉप 5 डीजल कार जो पीती हैं कम तेल, जानें कितना देती हैं माइलेज
A worker holds a nozzle to pump petrol into a vehicle at a fuel station in Mumbai, India, May 21, 2018. REUTERS/Francis Mascarenhas
News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 6:37 PM IST
तेल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए आजकल हर आदमी वो गाड़ी लेने का प्लान करता है, जिसका माइलेज अच्छा हो और वो कम से कम तेल पिए. आज हम आपको ऐसी ही कुछ गाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो माइलेज के मामले में बेहद शानदार हैं और आपकी जेब पर भी कम बोझ डालती हैं. जानिए कौन सी हैं टॉप 5 सबसे कम तेल पीने वाली डीजल गाड़ियां और कितना है इनका माइलेज

- मारुति सुजुकी डिजायर: इस कार के डीजल वेरिएंट का ARAI सर्टिफाइड माइलेज 28.4kmpl का है. डिजायर मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली गाड़ियों में से एक है.

maruti swift dzire
मारुति सुजुकी डिजायर


- टाटा टिएगो: टाटा की ये हैचबैक अपने शानदार माइलेज के लिए ही जानी जाती है. टिएगो का ARAI सर्टिफाइड माइलेज 27.27kmpl का है.

tata tiago
टाटा टिएगो


- स्विफ्ट: ये कार अपने आप में बेहद खास है और आज भी मार्केट को डोमिनेट करती है. स्विफ्ट मोस्ट फ्यूल एफिशिएंट डीजल कार है. इसका ARAI सर्टिफाइड माइलेज 28.4kmpl का है.

maruti swift
स्विफ्ट

Loading...

- सियाज हाइब्रिड: ये मिडसाइज सिडान कार का एवरेज कमाल का है. सियाज का 1.5-litre डीजल इंजन 26.82kmpl (ARAI सर्टिफाइड) का माइलेज देता है.

ciaz
सियाज


- बलेनो: मारुति सुजुकी की इस कार को मोस्ट-फ्यूल एफिशिएंट पेट्रोल कार भी कहा जा सकता है. इसमें BS6 कम्पलाइंट वाला हाईब्रिड पेट्रोल इंजन मिलता है. जो कि 27.39kmpl (ARAI सर्टिफाइड) का माइलेज देता है.

baleno
बलेनो


ये भी पढ़ें: Ford की इन गाड़ियों पर मिल रहे हैं शानदार ऑफर्स, देर न करें

ये भी पढ़ें: Triber vs Swift: कौन सी कार है बेहतर, जानें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 6:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...