• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • USING FASTAG WILL TAKE LESS TIME AND MONEY IN YOUR JOURNEY KNOW ALL ITS BENEFITS KANND

FASTag यूज करने से आपकी जर्नी में लगेगा कम समय और बचेंगे पैसे, जानिए इसके सभी फायदे

फास्टैग से होते है कई फायदे.

नेशनल हाईवे पर स्थित टोल प्लाजा पर FASTAg के जरिए टोल लेना शुरू कर दिया है. जिससे अब आपको टोल प्लाजा की लंबी लाइन में नहीं लगना होगा. इसके साथ ही जो लोग FASTAg के जरिए टोल टैक्स का भुगतान करेंगे उन्हें टोल टैक्स में कुछ छूट भी मिलेगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. रोड़ ट्रिप के जरिए सफर करने वालों के लिए खुशखबरी है. जो लोग अपने वाहन से सड़क के जनिए लंबा सफर करते है उनको इसे पूरा करने में अब कम समय तो लगेगा ही साथ में खर्चा भी कम आएंगा. दरअसल केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) ने देशभर के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा पर FASTAg के जरिए टोल लेना शुरू कर दिया है. जिससे अब आपको टोल प्लाजा की लंबी लाइन में नहीं लगना होगा. इसके साथ ही जो लोग FASTAg के जरिए टोल टैक्स का भुगतान करेंगे उन्हें टोल टैक्स में कुछ छूट भी मिलेगी. ऐसे में आपको अब सड़क के जरिए जर्नी करने में समय तो कम लगेगा ही साथ में आपके पैसे भी बचेंगे. इसके साथ ही FASTAg यूज करने के कई और फायदे हैं जिन्हें विशाल मारू एसवीपी - मर्चेंट पेमेंट सर्विसेज, लॉयल्टी एंड डिजिटल पेमेंट्स, वर्ल्ड लाइन इंडिया बताने जा रहे हैं.

    FASTag नहीं होने पर देना होगा डबल टैक्स - अगर आपने अभी तक अपने वाहन पर फास्टैग नहीं लगवाया है तो आप जल्द ही लगवा ले. क्योंकि अब टोल प्लाजा पर फास्टैग नहीं होने पर वाहनों से डबल टैक्स वसूला जाएगा. ऐसे में आपकी जेब पर ज्यादा बोझ पड़ेगा और आपका सफर महंगा हो जाएगा. वहीं सरकार ने साफ किया है कि, जिन वाहनों पर फास्टैग नहीं होगा उन्हें थर्ड पार्टी इंश्योरेंस का फायदा भी नहीं मिलेगा. इसके साथ ही फिटनेस सर्टिफिकेट और आरसी को रिन्यू कराने के लिए भी वाहन पर फास्टैग होना अनिवार्य कर दिया गया है.

    यह भी पढ़ें: आखिर क्यों ट्रांस्पोर्टर Tata Ace Gold मिनी ट्रक पर करते है विश्वास? यहां पढ़ें इसके बारे में..

    FASTag के फायदे 

     

    फास्टैग टोल संग्रह के लिए प्रीपेड रिचार्जेबल टैग हैं जो ऑटोमेटिक पेमेंट डिडक्शन की अनुमति देते हैं जब वाहन मोशन में होते हैं.

    देश भर में 720 से अधिक टोल प्लाजा डिजिटल रूप से टोल स्वीकार करने में सक्षम हैं. RFID टेक्नोलॉजी के माध्यम से तेजी से प्रोसेसिंग टाइम और टोल शुल्क की सहज स्वीकृति के साथ, यह ट्रैफिक बाधाओं को कम करने में मदद करता है और ईंधन भी बचाता है.

    इसके अलावा, डिजिटल लेनदेन भौतिक संपर्क को टालता है और सुरक्षा तत्व में जोड़ता है. जो इस समय के दौरान महत्वपूर्ण है. इसके अलावा, दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और बेंगलुरु जैसे प्रमुख शहरों में कॉन्टैक्टलेस और इंटर ऑपरेबल पार्किंग सॉल्यूशन जैसे नए उपयोग के मामले भी लागू किए जा रहे हैं. जीएमआर हैदराबाद अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे ने पहले ही NETC फास्टैग के साथ कॉन्टैक्टलेस कार पार्किंग सुविधा शुरू कर दी है.

    यह भी पढ़ें: फ्री में घर ले जाएं Mahindra की गाड़ियां, 3 महीने बाद करना होगा पेमेंट, जानें क्या है कंपनी का ऑफर

    उपभोक्ताओं को टोल भुगतान के लिए छुट्टे की तलाश करने की आवश्यकता नहीं है. क्योंकि टैग्स को कार्ड, UPI, NEFT और नेट बैंकिंग सहित कई भुगतान विकल्पों के साथ आसानी से आपके बैंक खाते से जोड़ कर रिचार्ज किया जा सकता है.

     आने वाले दिनों में FASTag को राज्य के राजमार्गों पर व्यापक रूप से अपनाया जाएगा और उपयोगकर्ताओं के लिए इसे अधिक प्रासंगिक बनाने के लिए नए उपयोग के मामलों के निर्माण पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा. NETC फास्टैग पर लगभग 29 बैंक लाइव हैं और उपभोक्ता किसी भी बैंक से बैंकों का लाभ उठा सकते हैं.
    Published by:Kanhaiya Pachauri
    First published: