बिना फास्टैग वाले वाहनों को सरकार ने दी राहत, 15 फरवरी तक टोल प्लाजा पर कैश पेमेंट की सुविधा

बिना फास्टैग वाले वाहनों को सरकार ने दी राहत, 15 फरवरी तक टोल प्लाजा पर कैश पेमेंट की सुविधा
टू-व्हीलर को छोड़कर कार, बस, ट्रक या अन्य प्रकार के निजी और कॉमर्शियल वाहनों को टोल प्लाजा से गुजरते समय फास्टैग अनिवार्य रूप से लगवाना होगा

फास्टैग नहीं लगाने वाले वाहनों के लिए सरकार ने बड़ी राहत दी है. ऐसे वाहन अब 15 फरवरी तक नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा से कैश पेमेंट कर निकल सकेंगे. हालांकि, इसके बाद सरकार बिना फास्टैग वाले वाहनों के खिलाफ सख्ती बरतने की भी तैयारी कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated : January 13, 2021, 4:17 pm IST
  • Share this:

    नई दिल्ली. बगैर फास्टैग (FASTag) वाले वाहनों को केंद्र सरकार ने राहत दी है. ऐसे वाहन अब 15 फरवरी तक नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा (Toll Plaza) से नगद भुगतान करके निकल सकेंगे. 16 फरवरी से सभी टोल प्लाजा में फास्टैग अनिवार्य करने का फैसला लिया गया है, यानी कैश लेना बंद कर दी जाएंगी. केंद्रीय सड़क परिवहन राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने " न्यूज़ 18 हिंदी " से बातचीत बताया कि एनएचआई के टोल प्लाजा में कैशलेन 15 फरवरी तक ही रहेंगे. इसके बाद सभी टोल फास्टट्रैक वाले हो जाएंगे. बगैर फास्टैग वाली गाड़ियों को टोल पर गुजरने पर पेनल्टी देनी पड़ेगी. पुरानी गाड़ियों में फास्टैग लगवाने के लिए यह छूट दी गयी है.

    इसके साथ ही सरकार बगैर फास्टैग वाले वाहनों के खिलाफ सख्ती बरतने की भी तैयारी कर रही है, जिससे सभी फोर वाहनों में फास्टैग लग जाए. सरकार ने इससे पूर्व टोल नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा में 1 जनवरी से कैश लेन खत्म करने का फैसला लिया था, लेकिन लोगों की होने वाली परेशानी को ध्यान रखते हुए यह डेट 15 फरवरी कर दी गई है.

    इन वाहनों के लिए अनिवार्य होगा फास्टैग
    टू-व्हीलर को छोड़कर कार, बस, ट्रक या अन्य प्रकार के निजी और कॉमर्शियल वाहनों को टोल प्लाजा से गुजरते समय फास्टैग अनिवार्य रूप से लगवाना होगा. गाड़ी मालिकों के पास फास्टैग खरीदने के कई विकल्प मौजूद हैं. इसे देशभर में नेशनल हाईवे के किसी भी टोल प्लाजा से खरीदा जा सकता है. इसके लिए आपको अपने वाहन की आरसी दिखानी होगी. इसके अलावा फास्टैग बैंकों, एमेजॉन, पेटीएम, एयरटेल पेमेंट बैंक आदि से खरीद सकते हैं. बैंकों में एसबीआई एचडीएफसी, आईसीआईसीआई, एक्सिस बैंक और कोटक बैंक से आप फास्टैग खरीद सकते हैं.

    यह भी पढ़ें:  पिछले साल के मुकाबले इस बार सस्ता है गज़क, फिर भी बाज़ार में कम हैं ग्राहक



    कितनी है फास्टैग की कीमत?
    इसकी कीमत इस बात पर भी निर्भर करती है कि आप इसे कहां से खरीद रहे हैं. हर बैंक की फास्टैग की फीस और सिक्योरिटी डिपॉजिट को लेकर अलग पॉलिसी है. आप कार के लिए पेटीएम से फास्टैग 5 सौ रुपये में खरीद सकते हैं. इसमें 250 रुपये रिफंडेवल सिक्योरिटी डिपॉजिट और 150 रुपये मिनिमम बैलेंस मिलेगा. वहीं, अगर आप इसे आईसीआईसीआई बैंक से खरीदते हैं तो इसके लिए आपको फीस के रूप में करीब एक सौ रुपये और दो सौ रुपये डिपॉजिट अमाउंट देना होगा. इसमे 2 सौ रुपये का बैलेंस रखना होगा.

    यह भी पढ़ें: पेट्रोल में 20 फीसदी इथनॉल मिलाने से देश को हर साल 1 लाख करोड़ रुपये का फायदा होगा: पेट्रोलियम सचिव 

    कैसे रिचार्ज कर सकते हैं फास्टैग
    इसको रिचार्ज करने के दो तरीके हैं. पहला तरीका है जिस बैंक से आप फास्टैग खरीद रहे हैं, उसके द्वारा बनाए गए फास्टैग वॉलेट को अपने स्मार्टफोन में डाउनलोड कर लें और इंटरनेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से उसे रिचार्ज करें. दूसरा तरीका यह है कि आप इसे पेटीएम, फोनपे जैसे मोबाइल वॉलेट से रिचार्ज कर सकते हैं. इसके अलावा आप अमेजन पे और गूगल पे से भी रिचार्ज कर सकते हैं.