Volkswagen डीजल कारों में हुई गड़बड़ियों को लेकर नया खुलासा

Volkswagen logo
(Source: GettyImages)
Volkswagen logo (Source: GettyImages)

जर्मनी की कार निर्माता कंपनी फॉक्‍सवैगन पर जान बूझकर कर दुनि‍याभर में करोड़ों डीजल कारों के एक्‍जॉस्‍ट एमि‍शन डाटा के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगा है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2017, 9:56 PM IST
  • Share this:
जर्मनी की कार निर्माता कंपनी फॉक्‍सवैगन पर जान बूझकर कर दुनि‍याभर में करोड़ों डीजल कारों के एक्‍जॉस्‍ट एमि‍शन डाटा के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगा है.

जर्मनी की एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फ़ॉक्सवैगन के सीनियर क्वालिटी  मैनेजर ने तत्कालीन सीईओ मार्टिन से गाड़ियों में हो रही गड़बड़ियों से जुड़ी सभी जानकारी 27 जुलाई, 2015 को दी थी.

फ़ॉक्सवैगन के बयान के अनुसार उसके एग्जीक्यूटिव बोर्ड सॉफ्टवेयर और एमिशन टेस्ट में हो रही गड़बड़ियों के बारे में उन्हें अगस्त 2015 तक कोई जानकारी नहीं थी.



फ़ॉक्सवैगन ने इस बात को स्वीकारा है कि 11 मिलियन कारों की जांच के लिए उपयोग किया गया सॉफ्टवेयर सही नहीं था. जिसके कारण कारों में गड़बड़ियां पाई गई और इसके कारण कम्पनी के तत्कालीन सीईओ को इस्तीफा भी देना पड़ा.
गड़बड़ियों के चलते निवेशकों ने फ़ॉक्सवैगन पर संवेदनशील जानकारियां छिपाने को लेकर मुकदमा दायर किया है, जिसे कम्पनी इंकार कर रही है.

जर्मन डेली के अनुसार, कंपनी के एक अज्ञात क्वालिटी मैनेजर ने जांचकर्ताओं को यह बात बताई कि 27 जुलाई को कम्पनी के तत्कालीन सीईओ मार्टिन ने उन्हें फोन पर सर्टिफिकेट को लेकर आ रही दिक्कतों के बारे में पूछा, जिसके बाद मैनेजर ने सीईओ को गड़बड़ी की जानकारी दी.

फिलहाल, इस मामले पर कंपनी ने कोई जवाब देने से मना किया है.

(Source: News18)

ये भी पढ़ें:
20,000 कस्टमर्स को ही मिलेगी HYUNDAI की नई Verna, जानें क्यों?
मर्सडीज ने लॉन्च की ये 2 दमदार कारें, जानें फीचर्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज