ऑटो शेयरों में क्यों आ रही है भारी गिरावट, जानिए वजह...

ऑटो शेयरों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. सोमवार को भी आज ऑटो शेयरों में भारी गिरावट दर्ज की गई. लेकिन ऐसा क्यों हो रहा है और इसके पीछे की असल वजह क्या है, आइए जानते हैं.

News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 6:12 PM IST
ऑटो शेयरों में क्यों आ रही है भारी गिरावट, जानिए वजह...
ऑटो शेयरों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है
News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 6:12 PM IST
ऑटो शेयरों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. सोमवार को भी आज ऑटो शेयरों में भारी गिरावट दर्ज की गई. लेकिन ऐसा क्यों हो रहा है और इसके पीछे की असल वजह क्या है, आइए जानते हैं.

ये भी पढ़ें: इस दमदार बाइक पर मिल रहा 4 लाख से ज्यादा का डिस्काउंट, जानें पूरी डिटेल

दरअसल सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए पेट्रोल-डीजल गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन महंगा करने का फैसला किया है. साथ ही अगर आपकी गाड़ी 15 साल से ज्यादा पुरानी है तो इस पर रजिस्ट्रेशन रिन्यू कराने के लिए भी अब और ज्यादा फीस देनी होगी. इसके अलावा अब पुरानी गाड़ियों के लिए हर छह महीने में फिटनेस सर्टिफिकेट भी लेना होगा. इससे पहले तक साल में एक बार फिटनेस सर्टिफिकेट लगता था. जब कि इलेक्ट्रिक गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन और रिन्यू पूरी तरह फ्री होगा. गाड़ी स्क्रैप कराने पर नई गाड़ी पर रजिस्ट्रेशन फीस नहीं होगा.

ये भी पढ़ें: जानें कब लॉन्च हो रही है नई बोलेरो और क्या है इसमें नया...

वहीं अब नए टू-व्हीलर का रजिस्ट्रेशन फीस 1000 रुपए और पुराने का रजिस्ट्रेशन फीस 2000 रुपए होगा. इंपोर्डेट गाड़ियों की बात करें तो इंपोर्डेट टू-व्हीलर (नए) पर 5000 रुपए रजिस्ट्रेशन फीस देना होगा. जब कि पुराने इंपोर्डेट 2-व्हीलर पर 10000 रुपए रजिस्ट्रेशन फीस देनी होगी. कारों की बात करें तो नई कार पर 5000 रुपए और पुरानी कार पर 15000 रुपए रजिस्ट्रेशन फीस लागू होगी. वहीं नई इंपोर्डेट कारों पर 20000 रुपए और पुरानी इंपोर्डेट कारों पर 40000 रुपए रजिस्ट्रेशन फीस लागू होगा.

ऑटो सेक्टर पर MACQUARIE का कहना है कि रजिस्ट्रेशन फीस बढ़ना नेगेटिव है. Scrappage पर रियायत पर्याप्त नहीं है. वहीं NOMURA का कहना है कि रजिस्ट्रेशन फीस बढ़ने से ऑटो शेयरों पर दबाव संभव है. इससे ऑटो सेक्टर में Revival की उम्मीदों को झटका लगा है.

(सोर्स: मनीकंट्रोल हिंदी)
Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 6:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...