अब IPL भोजपुरी में : कोरोना में किरकेट जइसे गमक बिना फूल, जानीं पहिला अउर दूसरा मैच के हाल

महेनदर सिंह धोनी चौउदह महीना के बाद आबूधाबी के मैदान में उतरल रहन.
महेनदर सिंह धोनी चौउदह महीना के बाद आबूधाबी के मैदान में उतरल रहन.

IPL मैच पर सबकर नजर बा. कोरोना के सून आ शांति वाला ये दौर में आईपीएल के क्रिकेट मैच से खेल के दुनिया में हलचल भइल हा. भोजपुरी के लोगन के भी नजर वही प बा. धोनी के रिटायरमेंट के बाद होखे वाला अब तक के दूनो मैच पर लेखक के विश्लेषण

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2020, 11:21 AM IST
  • Share this:


ब आइपीएल भोजपुरी में. किरकेट के देहाती दुनिया में रउआ सभे के स्वागत बा. कोरोना में किरकेट अइसने बा जइसे गमक बिना फूल. एकरा पहिले आइपीए शुरू होखे के दिन केतना धूमधड़ाका होतs रहे. तरह-तरह के करतब, नाच, गाना अउर ना जाने का-का होत रहे. लेकिन 2020 में सुखले शंख बाज गइल. धोनी अउर रोहित के फौउज में जब पहिला भिड़ंत भइल तs एस्टेडियम में केहू देखनिहारे ना रहे. इ तs सभे जानते रहे कि मैच देखे केहू ना आइ लेकिन जब टीभी पs पिछिला साल वला असटेडियम के अवाज सुनावल गइल तs बाड़ा जबून लागल. ई भरमाइला के भाला का जरूरत रहे ? मैच से पहिले जब धोनी टौस खारित अइले तs ऊ कोरोना में किरकेट पs मजाको कइले. धोनी कहले कि अब तs कोरोने के चलते एक्के सिलिप राखे के पड़ी. काहे से कि तीन सिलिप रखला पs देह सटे के डर रही. अगर दू गज के दूरी पs सिलिप राखल जाई तs तीसरा सिलिप के डिप पौवाइंट पs खाड़ा करे के परी. जब अतना दूर पs सिलिप फिल्डर रहिहें तो फास्ट बौलर के बिकेट कइसे मिली. कोरोना के चलते केतना बदल गइल किरकेट. मैच के बाद जब इनाम लेवे खेलाड़ी आवत रहन तs उनका दू गज फऱके खाड़ा रहे के परत रहे. लागते ना रहे कि किरकेट हो रहल बा.

ई बेरौनक किरकेट काहे भइल
सवाल ई बा कि एतना बेमाजा किरकेट काहे होताs ? तs एकर जबाब बा पइसा. पइसा जवन ना करावे. आइपीएल में देखनिहार भले चउका छाका के माजा लेले लेकिन सच्चाई में ई खेला बड़का बिजनेस हs. दुनियाभर में टीभी पs सबसे अधिका देखे वाला ई किरकेटिया मेला हs. अगर 2020 के आइपीएल ना होखित तs बीसीसीआइ के चार हजार करोड़ रोपेया के नोकसान होखित. 2018 में एसटार एसपोरट्स, टीभी पs आइपीएल देखावे के खातिर बीसीसीआइ के 16 हजार 347 करोड़ रोपेये देले रहे. करार के मोतिबक 2022 तक ओकरा मैच देखावे के बा. अगर एक मैच के बात कइल जाव तो स्टार, बीसीसीआइ के 55 करोड़ रोपये देला. बदला में स्टार एसपोरट्स परचार देखा के पइसा कमावेला. अगर मैच ना होखित तs स्टारो टीभी के भारी घाटा होइत. जब अरबों-खरबों रोपेया दाव पर लागल रहे तs आइपीएल कइसहूं होखिहीं के रहे. कोरोना के चलते टरत-टरत अपरिल से सितम्बर आ गइल. भारत में ना भइल तs अब संजुक्त अरब अमिरात में होताs. खेलाड़ी लाखों-करोड़ों रोपये लेले बाड़े तs उनका मन मार के खेलहीं के बा.
भोजपुरी में पढ़ें: जिनगी झंड बा, फिर भी घमंड बा



कप्तानी में धोनी के कवनो जोड़ा ना
महेनदर सिंह धोनी चौउदह महीना के बाद आबूधाबी के मैदान में उतरल रहन. बीतला 15 अगस्त के उ किरकेट से सनयास लेले रहन. उनकर खेला देखे खातिर मन कहिये से बेयाकुल रहे. आजो धोनी के दिमाग कमपूटर से कम नइखे तलतs. उनकर कप्तानी के कवनो जोड़ा नइखे. मोमबई के चारे ओभर में 45 रन बन गइल रहे. रोहित अ डिकौक तड़ातड़ मारत रहन. फास्ट बौलरन के पिटात देख के धोनी खटाक से बमहत्था इसपिनर ले अइले. पीयूष चवला आवते रोहित के ले बितले. रोहित के आउट होखते मोमबई नरभसा गइल. एक टाइम मोमबई के एस्कोर 13 ओभर में तीन विकेट पs 116 रन रहे. लागतs रहे कि मोमबई 180-190 रन बनाई. लेकिन धोनी आपन बौलरन से अतना होशियारी से ओभर करावले कि मोमबई 162 पs थम गइल. अंतिम सात ओभर में बस 46 रन बनल. लुंगी नगीदी अपना अंतिम दू ओभर में 9 रन दे के तीन विकेट लिहले. जब कि उ अपना शुरू के दू ओभर में 29 रन देले रहन. चेनई के बैटिंग आइल तs शुरुए में झटका लाग गइल. पहिले दू ओभर में दू बिकेट गिर गइल. अभी छवे रहन बनल रहे. लेकिन रायडू अउर डुपलेसी ममिला सम्हार लेले. दूनो जना मिल के एसकोर के 121 तक ले गइले कि रायडू आउट हो गइले.

भोजपुरी भाषा में पढ़ें: फिल्मी दुनिया आ नशाखोरी के बहस थरिया में छेद कि कथी में छेद!

धोनी फेन दिमाग लगा दिहले. रायडू के बिकेट गिरलs त उ जडेजा के भेज दिहले. जडेजा पांच गेंदा पर 10 रन बना के आउट भइले. तबो धोनी बैटिंग खातिर ना अइले. ऊ सैम कुरन के आगा भेज देले. ई दाव उनकर कमयाब भइल. कुरन छवे गेंदा पs एक चउका, दू छाका मार के 18 रन कूट देले. सैम कुरन जब आउट भइले तs चेनई के जीते खातिर बस दसे रन बनावे के रहे. धोनी बस नामे खातिर आइले. डुपलेसी आखिर ले डटलs रहले और चेनई के जीत दिला दिहले. एह तरीका से धोनी मोमबई से पांच हार के बाद पहिला बेर जीतले. धोनी के सेना में अधिका उमिरदारे खेलाड़ी रहन तबहुओं उ जीत के देखा दिहले. 2013 के बाद मोमबई एक बेर फेन ( लगातार अठवां बेर) आइपीएल के पहिला मैच हार गइल.

दोसर मैच में सुपर ओभर के कमा
आइपीएल 2020 के दोसर मैच पंजाब अउर दिल्ली के बीच खेलल गइल. ई मैच टाई भs गइल जवना के वजह से सुपर ओभर से जीत-हार तय करे के परल. सुपर ओभर में दिल्ली पंजाब के हरा देलस. पहिले खेल के दिल्ली 20 ओभर में आठ बिकेट पs 157 रन बनवलस. एसटोइनिस 21 गेंदा पर 53 रन बनवले. जबाब में पंजाब खेले खातिर उतरल तs ओकरो पारी आठ विकेट पs 157 रने प अंटक गइल. मयंक अगरवाल 89 रन बनवले. मैच टाई हो गइल तs ममिला सुपर ओभर में चल गइल. ई आइपीएल इतिहास के दसवां टाई मैच रहे. सुपर ओवर के पहिला गेंदा पs पंजाब के राहुल 2 रन लिहले. दिल्ली देने से बौलिंग करत रहन रबादा. रबादा के दोसर गेंदा प राहुल आउट हो गइले. रबादा के तीसरा गेंदा पs पंजाब के पूरन बोल्ड हो गइले. एह तरे से दिल्ली के जीते खातिर 3 रन के टारगेट मिलल. दिल्ली देने से बैटिंग करे अइले रिसभ पंत. पंजाब के बौलर रहन शमी. शमी के पहिला गेंदा पs कवनो रन ना बनल. शमी के दोसर गेंदा वाइड हो गइल. एक तरे दिल्ली के खाता में एक रन आ गइल. तीसरा गेंदा पर पंत 2 रन बना के दिल्ली के जिता दिहले. सांस रोके वाला ई मैच देख के बुझाइल कि काहे केहू किरकेट खातिर खखुआइल रहे ला.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज