• Home
  • »
  • News
  • »
  • bhojpuri-news
  • »
  • Bhojpuri में जन्मदिन विशेष: मनोज तिवारी के जिनिगी गोल्डन टच वाला रहल बा...

Bhojpuri में जन्मदिन विशेष: मनोज तिवारी के जिनिगी गोल्डन टच वाला रहल बा...

.

.

मनोज तिवारी (Manoj Tiwari Mridul) बचपन में ही पिता के साया से वंचित हो गइलें. उनका बालमन पर एकर काफी गहरा असर भइल आ उ भीतरे भीतर अकेले हो गइलें. अपना अकेलापन से लड़े खातिर उनकर झुकाव संगीत के प्रति बढ़ गइल. उ खुद से बांसुरी बजावे के सीखलें आ जब सीख लेलें.

  • Share this:

एगो राजा के गोल्डन टच के वरदान मिलल कि उ कुछुओ छुइहें त उ सोना हो जाई. ओइसही मनोज तिवारी के जिनगी रहल बा. अगर मनोज तिवारी के जिनगी के सफर देखल जाव त उहो गोल्डन टच वाला रहल बा. कैमूर (बिहार) के भभुआ के अतरवलिया गांव में 1 फरवरी 1971 में पैदा भइल मनोज तिवारी चार भाई में तीसरा नम्बर के हवें. किशोरावस्था में ही उनका पिता के देहावसान हो गइल जे शास्त्रीय संगीत के गायक रहलें. मनोज तिवारी बचपन में ही पिता के साया से वंचित हो गइलें. उनका बालमन पर एकर काफी गहरा असर भइल आ उ भीतरे भीतर अकेले हो गइलें.

अपना अकेलापन से लड़े खातिर उनकर झुकाव संगीत के प्रति बढ़ गइल. उ खुद से बांसुरी बजावे के सीखलें आ जब सीख लेलें त जवन पहिला गीत उनका बांसुरी से फुटल, उ रहे मोहम्मद रफी के जीवन-दर्शन करावे वाला गीत ‘जल्दी जल्दी चल रे कंहरा….सूरज डूबे रे नदिया’. संगीत में बी.पी. एड. अउरी एम.पी. एड. कइला के बाद मनोज तिवारी गायकी खातिर कोशिश करे लगलें. उ दिल्ली टी-सीरिज के ऑफिस पर लगातार चार साल चक्कर कटलें बाकिर कुछ ना भेंटाइल. एक बार वैष्णो देवी से लवटत समय फेर दिल्ली में टी-सीरिज ऑफिस में गइलें. ओहिजा के अधिकारी इनके पहचान गइल रहलें. मनोज उनसे कहलें कि हम एगो नया कैसेट लेके आइल बानी- मैया के गीत के. गुलशन कुमार तब बरामदा में खड़ा रहलें. मनोज जाके पांव छुवलें आ आपन नाम बतवलें. गुलशन कुमार उनका एल्बम के पहिला गाना ‘निमिया के डाढ़’ सुनत मन्त्र मुग्ध हो गइलें.

एह तरे टी-सीरिज से 1996 में रिलीज भइल उनकर पहिला एल्बम. फेर त मनोज तिवारी पीछे मुड़के ना देखलें. मनोज तिवारी के संगीत के लेके अलग सोच उनके सफलता के चोटी पर पहुंचा देहलस. उ परम्परागत भोजपुरी संगीत के लीक से हट के आधुनिकीकरण के तरफ कदम बढ़वलें आ एक से बढ़ के एक युथ के पसंद आवे वाला, बोलबाजी आ टोन मारे वाला मनोरंजक गीत गवलें, जइसे कि ‘बगल वाली जान मारेली’, ‘चट देनी मार देलें रिन्किया के पापा’ अउरी कुछ सामाजिक विद्रूपता पर गीत ‘जइसे जातिवाद के जहर फइलल’, ‘पूरब के बेटा’, ‘नौकरी ना मिलल’, ‘एमे में लेके एडमिशन, कम्पटीशन देता’ आदि गीत गाके संगीत के बाजार में आपन जगह बना लेहलन. उनका एल्बम के चलते भोजपुरी संगीत उद्योग कमाऊं बन गइल.

गायक मनोज, नायक बन गइलें –

मनोज तिवारी 2003 के फिलिम ‘कन्यादान’ खातिर ‘हीरो होंडा खोजsतिया’ गीत गवलें आ कैमियो रोल भी कइलें. उनका लगे निर्माता सुधाकर पाण्डेय एगो फिलिम में काम करे के ऑफर लेके अइलें. मनोज के उ ऑफर पसंद आइल लेकिन तब उनका एह बात के तनिको अंदाजा ना रहे कि ई फिलिमिया उनका के मशहूर गायक से भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार बना दी. उनके एह डेब्यू फिलिम के नाम रहे ‘ससुरा बड़ा पइसावाला’. ई फिल्म मृतप्राय भोजपुरी सिनेमा उद्योग के जिया देहलस. उनकर फिलिम महज 29 लाख के लागत में बनल आ लगभग 34 करोड़ के कमाई कइलस. ई 11 गो शहर में 50 सप्ताह तक सिनेमाघर से उतरबे ना कइल. एह फिलिम के बाद भोजपुरी सिनेमा के एगो बड़ दर्शक-समूह बन गइल आ भोजपुरी फिल्मन के बाढ़ आ गइल. हालांकि भोजपुरी सिनेमा के कई गो दौर रहल बा, 60 साल के दरमियान उ कई बार खड़ा भइल आ कई बार मृतप्राय भइल. लेकिन मनोज तिवारी के फिलिम के बाद जवन इंडस्ट्री खड़ा भइल उ अभिले चल रहल बा. हालांकि आलोचना आ विवाद एकर दोसर पक्ष बा.

पहिला फिलिम के बाद मनोज तिवारी के झोरी में केतना बड़ा-बड़ा प्रोड्यूसर के फिलिम गिरल आ उ कहां से कहां पहुंच गइलें. मनोज तिवारी 2010 में कलर्स के हिट शो बिग बॉस में गइलें, जहां उनका बारे में खूब चर्चा भइल. हालांकि ओह शो में डॉली बिंद्रा से खूब विवाद भइल रहे.

उनकर उल्लेखनीय फिलिम बा- ससुरा बड़ा पइसावाला, दरोगा बाबू आई लव यू, दामाद जी, रणभूमि, गंगा, गंगा जमुना सरस्वती, धरती कहे पुकार के, भोजपुरिया डॉन, ठेला नंबर 501, देवा, धरतीपुत्र, भोले शंकर, देहाती बाबू, देवरा भइल दिवाना, ए भउजी के सिस्टर आदि.

मनोज, क्रिकेटर मनोज तिवारी भी रहल बाड़ें
मनोज तिवारी अपना स्टूडेंट लाइफ में क्रिकेट के भी खिलाड़ी रहल बाड़े आ उ बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय का ओर से खेललहूं बाड़न. हिन्दुस्तान के फिलिम स्टार्स के क्रिकेट सीसीएल (सेलीब्रिटी क्रिकेट लीग) में भोजपुरी सिनेमा के टीम भोजपुरिया दबंग के कैप्टन भी रहल बाड़न मनोज तिवारी. मनोज तिवारी सीसीएल के टॉप प्रदर्शन करे वाला खिलाड़ी हवें. महेंद्र सिंह धोनी से भी उनकर शुरू से दोस्ती रहल बा. कहे के माने बा कि उ जवना क्षेत्र में गइलें उहें झण्डा गाड़ देलें.

स्टार मनोज तिवारी राजनीति के भी स्टार बनलें –
भोजपुरी फिलिमन के राजनीति से नाता पहिला बार मनोज तिवारी जोड़ले. हालाँकि विनय बिहारी त जोड़िये देले रहलें लेकिन अब बात एमएलए से एमपी के ओर बढ़ गइल रहे. साल 2009 में मनोज समाजवादी पार्टी के ओर से गोरखपुर सीट पर योगी आदित्यनाथ के खिलाफ लड़लें अउर योगी से हार के 83,059 वोट के साथे तीसरा स्थान पर रहलें. फेर साल 2014 में भाजपा के ओर से उत्तर-पूर्वी दिल्ली से उम्मीदवार बनले. मोदी लहर अउर ओह क्षेत्र में पूरबियन के बहुलता के कारण जीत गइलें. मनोज तिवारी साल 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा के स्टार-प्रचारक रहलें. आपन प्रभावशाली व्यक्तित्व के बदौलत उ जल्दिये दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष भी बन गइलें.

मनोज तिवारी साल 2019 में उत्तर-पूर्वी दिल्ली से दुबारा चुनाव लड़लें. उनका सामने कांग्रेस के शीला दीक्षित अउर आप से दिलीप पाण्डेय खड़ा रहलें. दिलीप पाण्डेय भी भोजपुरी भाषी हवन. उनका के भी आप भाजपा के समीकरण के अनुकरण करत पुरबिया लोगन के बहुलता वाला क्षेत्र में भोजपुरिया वोटर के लुभावे खातिर उतरलस. जबकि मनोज तिवारी दुबारा भी आपन एह किला पर फतह पा लिहलें. मनोज तिवारी 7,87,799 वोट पाके जीत हासिल कइले, जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री रहल शीला दीक्षित 4,21,697 वोट के साथे दुसरा नम्बर पर रहली.

मनोज तिवारी ए बेरा सक्रिय राजनीति में बाड़ें आ भाजपा के प्रमुख चेहरा में से एक. विवाद से उनकर चोली दामन के साथ रहल बा. सिनेमा आ गायिकी के लेके उ हमेशा सवालिया निशान पर रहल बाड़न बाकिर जवन गोल्डन टच के बात भइल रहल ह, उ उनका साथे बा. उ जहां गइलें उहाँ सोना सोना हो गइल बाकिर एकर उनका कीमत भी चुकावे के पड़ल. बहुत पीड़ा झेले के पड़ल. पिछला साले मनोज तिवारी आपन दोसर शादी कइलें हं गायिका सुरभि तिवारी से आ हाले में 30 दिसंबर 2020 के उनका एगो बेटी भइल ह – शानविका.
जन्मदिन पर मनोज तिवारी के समहर उज्जवल भविष्य खातिर शुभकामना.
( लेखक मनोज भावुक भोजपुरी सिनेमा के वरिष्ठ स्तंभकार हैं. )

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज