Home /News /bhojpuri-news /

is number 13 really unlucky know its jyotishi bhojpuri vinay bihari singh

Bhojpuri में पढ़ें- तेरह नंबर का सचमुच अशुभ ह?

.

.

तेरह नंबर के अशुभ भइला के एतना प्रचार हो गइल बा कि अब कुछ भोजपुरिहा भाई भी 13 तारीख के कहीं आइल- गइल ना करेला लोग. चंडीगढ़ में त सेक्टर 13 हइए नइखे. काहें से कि ओकरा के अंग्रेज आर्किटेक्ट बनवले बा लोग. त 13 अंक के अंग्रेज काहें अशुभ मानेला लोग एकरा पर चर्चा करेके पहिले जानल जाउ कि हमनी किहां 13 अंक के लेके का व्याख्या बा.

अधिक पढ़ें ...

हमनी के पंचांग में त्रयोदशी (हिंदू पंचांग के 13वीं तिथि) बड़ा शुभ मानल जाले. त्रयोदशी महीना में दू हाली आवेले. केहू- केहू एकरा के तेरस भी कहेला. कहल जाला कि त्रयोदशी तिथि के जन्मल लोग महासिद्ध आ परोपकारी होला. ई लोग कई प्रकार के विद्या आ ज्ञान से भरल रहेला. धार्मिक त होखबे करेला लोग, इंद्रियजीत भी कहाला लोग. त्रयोदशी के यात्रा, विवाह आ कौन टेक्नालाजी वाला काम कइल बहुते शुभ मनाला. शुक्ल पक्ष के त्रयोदशी के भगवान शिव के पूजा कइल जाला. हालांकि कृष्ण पक्ष के त्रयोदशी के भगवान शिव के पूजा करेके मना कइल गइल बा. त्रयोदशी के प्रदोष व्रत राखल जाला. साल में कुल 24 गो प्रदोष व्रत परेले सन. कहल बा कि त्रयोदशी के व्रत कइला पर (चाहे शुक्ल पक्ष होखे भा कृष्ण पक्ष) पुत्र प्राप्ति, ऋण आ रोग से मुक्ति आ सुख में वृद्धि होला. त हमनी के पंचांग में 13 नंबर बड़ा शुभ बा.

अब आईं देखल जाउ कि अंग्रेज भा पश्चिमी देशन के लोग काहें 13 के अशुभ मानेला. कथा बा कि जीसस क्राइस्ट के 12 गो अंतरंग शिष्य रहे लोग. ओमे से एगो रहले जुडास (जुडास इस्कैरियाट). जीसस भगवान के सर्वोपरि बतावसु आ ओइजा के शासक/राजा अपना के सर्वोच्च बतावे. शासक जीसस के आपन दुश्मन माने आ उनकर हत्या करेके चाहे. ओकर कर्मचारी जीसस क्राइस्ट के चिन्हबे ना करसन. एही बीच जीसस क्राइस्ट अपना बारहो अंतरंग शिष्यन का संगे अंतिम भोज (लास्ट सपर) के आयोजन कइले. बारहो शिष्य बइठल लोग. जुडास भी बइठले. ओही घरी जीसस कहि दिहले कि तहनी लोगन में से एगो शिष्य हमरा के धोखा दीही. ऊहे भइल. महज 30 गो चांदी के सिक्का का बदले जुडास जीसस के धोखा दे दिहले. ऊ राजा के कर्मचारियन से कहले कि हम जेकरा के चुम्मा देब, ऊहे जीसस क्राइस्ट हउवन. बस तहन लोग उनका के गिरफ्तार क लीह लोग. जुडास के धोखा दिहला से जीसस गिरफ्तार भइले आ उनका के सूली पर चढ़ा दिहल गइल. आखिरी भोज में जुडास जौना कुरसी पर बइठल रहले ऊ 13 नंबर के सीट रहे. तबे से 13 के अशुभ मानल जाला. पश्चिमी देशन में 13 नंबर के कमरा ना रहे, 13 वां तल्ला ना रहे. बारह तल्ला का बाद सीधे चौदहवां तल्ला रहेला. ओही तरे कमरो 12 नंबर का बाद 14 नंबर के कमरा हो जाला. पश्चिमी देशन के बहुते लोग 13 तारीख के कौनो शुभ काम ना करे. एह 13 नंबर के फोबिया के नांव परल बा- ट्रिस्काइडेकाफोबिया.

प्रसंग छिड़ल बा त बता दीं कि पश्चिम बंगाल में जदि दूगो केरा (केला) एके में सटल/ जुड़ल रही त ओकरा के केहू ना कीनी/खरीदी. दूगो जुड़ल केरा के लोग अशुभ मानेले. हालांकि हम त जुड़ल केरा खरीद के अक्सर खानी, हमरा कौनो दिक्कत ना होला. त हमनी के भोजपुरिए समाज में ना विदेशो में लोग अंधविश्वास करेले आ बरावेले. हमनी के समाज में जदि केहू बड़- बुजुरुग के मृत्यु हो जाला त जौना दिने मृत्यु भइल बा ओकरा के “मानि” कहल जाला. “मानि” माने मनाही. कथी के मनाही? त कौनो शुभ काम के मनाही. बाकिर विदेश में त 13 परमानेंट अशुभ मान लिहल बा. इटली में 13 नंबर के अशुभ ना मनाला. त आपन- आपन मान्यता ह. ढेर लोग बिलार रास्ता काट देले त रास्ता पार करेके पहिले खड़ा हो जाला, दोसर केहू रास्ता क्रास करी, तब ऊ आदमी रास्ता पार करी. हम एगो सहपाठी का संगे फाइनल परीक्षा देके आवत रहनीं. तले एगो बिलार सास्ता काट दिहलस. हमार सहपाठी रुक गइले आ दोसरा रास्ता पड़ी घरे अइले. हम बिलार के काटल रास्ता पर चलि के आ गइलीं. हम कहनीं कि जइसे अउरी कुल जानवर होले सन ओहीतरे बिलारियो ह. त एगो जानवर रास्ता कटलस. जदि मूस/चूहा रास्ता काट देता, कुकुर रास्ता काट देता त ओकरा से केहू डेरात नइखे आ जदि बिलार काट दे तिया त अशुभ हो जाता. त हमार सहपाठी बिलार के रास्ता काटल बरवले त फेल हो गइले आ हम बिलार के काटल रास्ता पर बेफिकिर चलि के घरे चलि अइनी त पास हो गइनीं. एही से सिद्ध होता कि हमनी के समाज में कुछ भ्रांति भा मान्यता बाड़ी सन जौना के परख कइल जरूरी बा.

कुछ लोग कुकुर भा बिलार के दुआरी पर रोअला के अशुभ मानेला. हम एकर परीक्षण नइखी कइले. एसे हम एकरा पर कुछ ना कहब. एहीतरे पहिले गांव में कहात रहल ह कि केहू के चिट्टी के इंतजार होता आ आंगन के मुड़ेर पर कौआ बोले लागल त एकर माने चिट्ठी आई. अब चिट्ठी के जमाना गइल. अब त व्हाट्स एप आ ई मेल के जमाना बा. एही से सरकार टेलीग्राम के परंपरा बंद क दिहलस. काहें से कि टेलीग्राम बहुते धीरे चले वाला सिस्टम रहल ह. आज टेलीग्राम कइनीं त दू दिन बाद पहुंची. एने व्हाट्स एप आ ईमेल तुरंते पहुंच जाता. फोन तुरंते पहुंच जाता.

त ई रहल ह 13 नंबर अंक के लेके धारणा आ शुभता, अशुभता. अब रउरा बताईं कि राउर का विचार बा.

(विनय बिहारी सिंह वरिष्ठ पत्रकार हैं, आलेख में लिखे विचार उनके निजी हैं.)

Tags: Article in Bhojpuri, Bhojpuri

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर