जेसीबी से टक्कर मारकर नीलगाय को गड्ढे में धकेला, फिर जिंदा दफनाया

बिहार के वैशाली (Vaishali) में चार दिनों में 300 से ज्‍यादा नीलगायों की हत्‍या कर दी गई है. इसी क्रम में एक नीलगाय को जिंदा दफनाने का मामला भी सामने आया है.

News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 3:27 PM IST
जेसीबी से टक्कर मारकर नीलगाय को गड्ढे में धकेला, फिर जिंदा दफनाया
जानकारी के अनुसार नीलगायों को मारने का प्रावधान है कि पहले उसे गोली मारी जाए और जब उसकी मौत की पुष्टि हो जाए उसके बाद ही उसे दफनाया जाए.
News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 3:27 PM IST
वैशाली. बिहार (Bihar) से चौंकाने वाली खबर सामने आई है. यहां पर वैशाली में नीलगाय (Nilgai) को जिंदा दफन करने की घटना सामने आई है. इस पूरी घटना का एक वीडियो (Video) भी सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल (Viral) हो रहा है. वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक नीलगाय को पहले गोली मारी गई, लेकिन वह नहीं मरी सिर्फ घायल हो गई. इसके बाद जिंदा ही उसे जेसीबी की मदद से एक गड्ढे में जिंदा दफना दिया गया. बताया जा रहा है कि यह मामला 1 सितंबर का है और इस मामले के सामने आने के बाद 3 सितंबर को जांच भी शुरू की गई है.

सरकार ने दिया है नील गायों को मारने का आदेश
बिहार में फसल सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने आदेश दिया है. इस आदेश के तहत नील गायों को मारने की इजाजत दी गई है. इस आदेश के आने के बाद वैशाली में ही सिर्फ चार दिनों के अंतराल में 300 से ज्यादा नील गायों को मारा जा चुका है. वन विभाग (Forest Department) ही इस काम को अंजाम दे रहा है. एक अधिकारी ने बताया कि फसलों की सुरक्षा के लिए नीलगायों को मारना एक जरूरी काम है.



क्या है प्रावधान
जानकारी के अनुसार नीलगायों को मारने का प्रावधान है कि पहले उसे गोली मारी जाए और जब उसकी मौत की पुष्टि हो जाए उसके बाद ही उसे दफनाया जाए. वीडियो वायरल होने के बाद वन विभाग के अधिकारी भी सकते में हैं और पल्ला झाड़ते हुए बयान जारी किया गया है कि मामले की जांच की जा रही है और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वैशाली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 3:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...