लाइव टीवी

मोटरसाइकिल पर नेपाल ले जा रहे थे 3.5 किलो कोबरा का जहर, सेना ने किया गिरफ्तार
Araria News in Hindi

SATISH KUMAR | News18Hindi
Updated: February 20, 2020, 5:09 PM IST
मोटरसाइकिल पर नेपाल ले जा रहे थे 3.5 किलो कोबरा का जहर, सेना ने किया गिरफ्तार
तस्करों से बरामद जहर की जांच करते सेना और वन विभाग के अधिकारी.

कांच के दो जार में बंद इस जहर को फ्रांस से तस्करी कर लाया जा रहा था. हालांकि जब्त किए गए जहर की कीमत नहीं बताई गई है लेकिन माना जा रहा है कि ये करोड़ेां रुपये का जहर था जो नशीली वस्तुओं के निर्माण के लिए तस्करी किया जा रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2020, 5:09 PM IST
  • Share this:
अर‌रिया. नेपाल बॉर्डर पर सेना ने तीन लोगों को शक के आधार पर रोका. जब उनकी तलाशी ली गई तो सेना के अधिकारी भी सकते में आ गए. तीनों लोग अपने साथ कोबरा का 3.5 किलो जहर तस्करी कर ला रहे थे. जानकारी के अनुसार कांच के दो जार में बंद इस जहर को फ्रांस से तस्करी कर लाया जा रहा था. हालांकि जब्त किए गए जहर की कीमत नहीं बताई गई है लेकिन माना जा रहा है कि ये करोड़ेां रुपये का जहर था जो नशीली वस्तुओं के निर्माण के लिए तस्करी किया जा रहा था.

जार पर लिखा है मेड इन फ्रांस
एसएसबी के कमांउेंट वीरेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि नेपाल बॉर्डर के पीपरा इलाके में तीन लोगों को शक होने के बाद रोका गया. जब उनके बैग की तलाशी ली गई तो उसमें दो कांच के जार निकले. दोनों जार पर मेड इन फ्रांस लिखा था. जब जार में मौजूद वस्तु की जांच की गई तो यह कोबरा का जहर था. एक जार में 1.73 किलो और दूसरे जार में 1.80 किलो जहर देखकर वहां मौजूद सभी लोग चौंक गए. तस्करों की पहचान जितन यादव, नरेश यादव और नरेश यादव के तौर पर हुई है. तीनों को अब अरररिया वन विभाग के सुपुर्द कर दिया गया है.

नेपाल भागने की फिराक में थे तस्कर



जानकारी के अनुसार तस्कर इस जहर को पश्चिम बंगाल के रास्ते से यहां तक लेकर आए थे और आगे वे लोग नेपाल भागने की फिराक में थे. तीनों तस्कर मोरटसाइकिल पर सवार थे. सेना के जवानों ने उन्हें देखकर पूछताछ के लिए रोका. इस दौरान उनकी तलाशी ली गई तो दो जार इस दौरान मिले. जांच में दोनों में कोबरा का जहर मिला. जिसे के बाद तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

बड़े शहरों में महंगा नशा
कोबरा के जहर का इस्तेमाल नशे के तौर पर भी किया जाता है. दिल्ली, गुरुग्राम, मुंबई जैसे बड़े शहरों में युवा ऐसे नशों के आदी हैं. कोबरा के जहर को डायल्यूट करने के बाद उसका पाउडर बनाया जाता है. इसी पाउडर का इस्‍तेमाल लोग नशे के तौर पर करते हैं. वैसे इस जहर का इस्तेमाल कई दवाइयों के निर्माण के लिए भी किया जाता है.

ये भी पढ़ेंः 100 रुपए को लेकर हुआ विवाद तो बहू ने सास पर फेंक दिया खौलता पानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अररिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 5:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर