Araria News: लव मैरिज करने पर ग्रामीणों ने लगाया डेढ़ लाख का जुर्माना, शर्त नहीं मानने पर मारपीट

ग्रामीणों ने घर में घुसकर लड़के के पिता को खूंटे से बांधकर पीटा. पीड़ित परिवार पहुंचा थाने.

ग्रामीणों ने घर में घुसकर लड़के के पिता को खूंटे से बांधकर पीटा. पीड़ित परिवार पहुंचा थाने.

ग्रामीणों ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए प्रेमी जोड़े को पूरे ग्रामीणों को भोज देने एवं डेढ़ लाख रुपया जुर्माना देने का तुगलकी फरमान सुना डाला. जब ग्रामीणों की मांग पूरी नहीं हुई तो घर में घुसकर प्रेमी जोड़े समेत महिलाओं को पीट-पीटकर जख्मी कर दिया तथा लड़के के पिता को खूंटे से बांधकर पिटाई कर दी.

  • Share this:

अररिया. अररिया के फारबिसगंज अनुमंडल के नरपतगंज में ग्रामीणों का तुगलकी फरमान सामने आया है. मामला नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के रामघाट पंचायत का है. अमृतसर से दो बच्चों की मां अपने प्रेमी से मिलने नरपतगंज के रामघाट पहुंच गई, जहां दोनों ने करीब दो महीने पूर्व मंदिर में हिन्दू रीति-रिवाज से शादी रचा ली. शादी के बाद वह अपने ससुराल में रहने लगी लेकिन ग्रामीणों को यह बात नागवार गुजरी. ग्रामीणों ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए प्रेमी जोड़े को पूरे ग्रामीणों को भोज देने एवं डेढ़ लाख रुपया जुर्माना देने का तुगलकी फरमान सुना डाला. जब ग्रामीणों की मांग पूरी नहीं हुई तो घर में घुसकर प्रेमी जोड़े समेत महिलाओं को पीट-पीटकर जख्मी कर दिया तथा लड़के के पिता को खूंटे से बांधकर पिटाई कर दी. पुलिस को जब मामले की जानकारी मिली तो मंगलवार की रात्री जाकर उसके पिता को सुरक्षित थाने लेकर आई.

मामला रामघाट पंचायत के वार्ड संख्या 14 का बताया जा रहा है. प्राप्त जानकारी के अनुसार रामघाट पंचायत के सीताराम यादव का बेटा सुमन यादव अमृतसर में रह कर मजदूरी किया करता था. अमृतसर में ही दो बच्चों की मां उषा देवी के साथ पिछले कई सालों से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था. दो माह पूर्व उषा देवी अपने दोनों बच्चों को साथ लेकर नरपतगंज आ गई, जहां दोनों की हिंदू रीति रिवाज से शादी संपन्न हुई. हालांकि ग्रामीणों को यह बात नागवार गुजरी. पहले तो ग्रामीणों ने नरपतगंज थाना में आवेदन दिया कि सीताराम यादव ने उक्त महिला एवं दोनों बच्चों को गायब कर दिया है. उसके बाद उसके पिता को भी ग्रामीणों ने खूंटे से बांधकर पिटाई कर दी.

यही नहीं 10-15 लोगों ने जबरन सीताराम यादव के घर घुसकर महिलाओं को भी पीट-पीटकर जख्मी कर दिया. इस बाबत सीताराम यादव की दूसरी बहू सीता देवी ने गांव के ही मुन्ना यादव, अमरेंद्र यादव, अरुण यादव, किशन कुमार, गणेश यादव, बेचन यादव आदि पर घर में घुसकर मारपीट करने तथा दुर्व्यवहार करने एवं सास के साथ मारपीट करने का आरोप लगाते हुए आवेदन दिया है.

इधर, स्थानीय मुखिया अशोक मंडल रामघाट का कहना है कि मारपीट या जुर्माना जैसे कोई बात नहीं है. बिना शादी के दोनों रह रहे हैं. बिना शादी के रखने पर ग्रामीणों का दवाब था. खूंटे से बांधकर नहीं मारा गया. इस संदर्भ में नरपतगंज थाना अध्यक्ष एम ए हैदरी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि किसी भी दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज