लाइव टीवी

करोड़ों के भूमि अधिगृहण घोटाले में फ्रीज खातों की जानकारी देने से क्यों डर रहा है प्रशासन

News18 Bihar
Updated: November 15, 2019, 11:43 AM IST
करोड़ों के भूमि अधिगृहण घोटाले में फ्रीज खातों की जानकारी देने से क्यों डर रहा है प्रशासन
अररिया में करोड़ों रुपये के भूमि अधिग्रहण घोटाले में फ्रिज 200 से ज्यादा खातों की जानकारी नहीं दे रहा प्रशासन.

अगर प्रशासन (Administration) ने इन खातों (Accounts) के बारे में जानकारी सार्वजनिक कर दी तो भू-माफिया समेत कई सफेदपोश और कई अधिकारी(Officer) भी बेनकाब हो जाएंगे. शायद इसीलिए ही प्रशासन ने आरटीआई (RTI) का जवाब नहीं देना ही उचित समझा.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 15, 2019, 11:43 AM IST
  • Share this:
अररिया. अररिया (Araria) में करोड़ों रुपये के भूमि अधिग्रहण (Land Acquisition) घोटाले (Scam) मामले में फ्रीज किये गये 200 से ज्यादा खातों (Accounts) की जानकारी सार्वजनिक करने से प्रशासन (Administration) किनारा कर रहा है. अगर प्रशासन ने इन खातों के बारे में जानकारी सार्वजनिक कर दी तो भू-माफिया समेत कई सफेदपोश और कई अधिकारी भी बेनकाब हो जाएंगे. शायद इसीलिए ही प्रशासन ने आरटीआई का जवाब नहीं देना ही उचित समझा.

इसके बारे में आरटीआई कार्यकर्ता ने जब भू-अर्जन विभाग से जवाब मांगा तो विभाग ने अपनी असमर्थता जता दी और जवाब नहीं दिया. इधर शहर के स्थानीय लोगों में भी इस मुद्दे को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गयी है कि आखिर कई सौ करोड़ रुपये के घोटाले मामले में जिला प्रशासन खातों के बारे में जानकारी क्यों नहीं दे रहा है. डीएम समेत सभी अधिकारी इस मसले पर मौन हैं.

बता दें कि देश के आंतरिक सुरक्षा को लेकर भारत सरकार द्वारा नेपाल के समानांतर 597 किमी 2 लेन बॉर्डर रोड का निर्माण होना है. इसी कड़ी में तत्कालीन डीएम हिमांशु शर्मा ने भौतिक सत्यापन के बाद भूमि माफिया और भू-अर्जन विभाग की मिलीभगत से भूमि की प्रकृति बदलकर कई सौ करोड़ रुपये के घोटाले का पर्दाफाश किया था.

ये भी पढ़ें- जमुई: नसबंदी के 6 साल बाद गर्भवती हुई महिला, मुआवजे की मांग

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अररिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 11:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...