नालंदा: 8 लाख वसूलने हथियारबंद बदमाशों ने किया युवक का अपहरण, लेकिन...
Nalanda News in Hindi

नालंदा: 8 लाख वसूलने हथियारबंद बदमाशों ने किया युवक का अपहरण, लेकिन...
पुलिस मामले की जांच कर रही है.

किडनैप (Kidnap) करने के बाद युवक की आंखों पर पट्टी बांधकर उसे शहर से दूर लेकर चले गए. किसी तरह उसके दो दोस्त भागन निकले फिर पुलिस को इस घटना की जानकारी दी. सूचना मिलते ही पुलिस (Police) हरकत में आई और कार्रवाई शुरू की.

  • Share this:
नालंदा. बिहार (Bihar) के नालंदा (Nalanda) के नूरसराय थाना क्षेत्र से अपहरण (Kidnap) का एक मामला सामने आ रहा है. बताया जाता है कि अपहरणकर्ताओं ने 8 लाख रुपये की वसूली करने के लिए एक युवक को किडनैप कर लिया था. घटना की जानकारी मिलते ही एसपी नीलेश कुमार के निर्देश पर डीएसपी सदर इमरान परवेज के नेतृत्व में टीम नूरसराय, लहेरी थाना पुलिस की टीम गठित की गई. ग्रामीणों की मदद से हथियारबंद अपहरणकर्तओं को गिरफ्तार कर लिया गया. इसके साथ ही अपहृत युवक को भी सकुशल बरामद कर लिया गया है.

 दोस्त ने दी थी पुलिस को सूचना

बताया जाता है कि अपहृत युवक सारे थाना इलाके के अमरसीबिगहा निवासी गुड्डू कुमार ने बताया कि उसके दोस्त ने फोन कर लहेरी थाना इलाके के नाला रोड के समीप मिलने के लिए बुलाया. जब वह अपने दो अन्य साथी के साथ वहां पहुंचा तो पहले से घात लगाए बदमाशों ने हथियार का डर दिखाते हुए जबरन गाड़ी में बिठा लिया. इसके बाद उसके आंख पर पट्टी बांध शहर से दूर लेकर चले गए.  गुड्डू के दोनों दोस्त किसी तरह से वहां से भागन निकले फिर पुलिस को इस घटना की जानकारी दी. सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आई और कार्रवाई शुरू की.



ऐसे गिरफ्तार हुए बदमाश
पुलिस ने तकनीक के आधार पर नूरसराय थाना इलाके के रसलपुर गांव के समीप से युवक को बरामद कर लिया. गिरफ्तार बदमाशों में लहेरी थाना इलाके के रेहटपर निवासी शिवकुमार का बेटा चिकू कुमार और रामचंद्रपुर निवासी संजय कुमार सिंह का बेटा केतन कुमार है. आरोपी पुलिस को देख सड़क किनारे युवक को फेंका फरार होने की कोशिश कर रहे थे. इसी बीच मौके पर ग्रामीण पहुंच गए और खदेड़ कर दो किडनैपर्स को पकड़ लिया.

ग्रामीणों ने की पिटाई

पकड़ गए अपहरणकर्ताओं की ग्रामीणों ने जमकर पिटाई की. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और किसी तरह दोनों को ग्रामीणों की चंगुल से छुड़ा कर इलाज के लिए अस्पताल लाई. भागने के दौरान बदमाश ने एक पिस्टल को कुंए में फेंक दिया जिसे पुलिस बरामद करने में जुटी है. जबकि पकड़े गए बदमाश के पास से एक लोडेड कट्टा और मैगजीन बरामद हुआ है.

चश्मदीद ने किया बड़ा खुलासा

गुड्डू के दोस्त ने बताया कि वह नौकरी लगाने, सीएसपी शाखा दिलाने, परीक्षा में दूसरे को बिठाने समेत कई तरह के गलत काम करता है. जिन लोगों ने उसका अपहरण किया उन लोगों से सीएसपी शाखा दिलाने के नाम पर पैसे ले रखा था. इधर, डीएसपी सदर इमरान परवेज ने बताया कि अपहृत युवक वर्तमान में बिहार थाना इलाके के प्रोफेसर कॉलिनी में किराए पर रहता है. पकड़े गए बदमाश ने पूछताछ में बताया कि गुड्डू कई लोगों से सीएसपी शाखा दिलाने के नाम पर रुपये ले रखा था. मगर किसी को अभी तक न तो किसी को नौकरी मिली ही उसने पैसे लौटाए. पैसे वसूली को लेकर उसका अपहरण कर किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज