Home /News /bihar /

बिहार में SSP की गाड़ी से शराब की तस्करी, डिक्की खोलते ही उड़े पुलिसवालों के होश

बिहार में SSP की गाड़ी से शराब की तस्करी, डिक्की खोलते ही उड़े पुलिसवालों के होश

बिहार के अरवल में एसएसपी की गाड़ी से शराब की तस्करी करने का मामला सामने आया है

बिहार के अरवल में एसएसपी की गाड़ी से शराब की तस्करी करने का मामला सामने आया है

Bihar Liquor Smuggling: बिहार के अरवल जिले में ट्रैक्टर को टक्कर मारने के बाद ये कार सड़क किनारे जा गिरी. मामले की जांच के लिए पहुंची पुलिस ने जब गाड़ी खोली तो उसमें 300 लीटर विदेशी शराब मिली. जांच के दौरान ये गाड़ी एसएसपी की निकली जिसने सभी को सकते में डाल दिया.

अधिक पढ़ें ...

रिपोर्ट- अनिरूद्ध कुमार

अरवल. बिहार में सीएम नीतीश कुमार की सख्ती के बाद भी शराब की तस्करी (Bihar Liquor Smuggling) लगातार जारी है और माफिया किसी न किसी तरीके से शराब की सप्लाई कर रहे हैं. ताजा मामला अरवल (Arwal) जिले से है जहां शराब की बरामदगी से जुड़ा एक ऐसा मामला सामने आया जिसने पुलिस के अधिकारियों के भी होश उड़ा दिए. दरअसल शराब की बरामदगी से जुड़े इस मामले में जिस गाड़ी से शराब की खेप मिली वो एसएसपी (Police SSP) की गाड़ी थी.

अरवल जिले के मेहंदिया थाना की पुलिस ने शनिवार को दुर्घटनाग्रस्त कार से भारी मात्रा में शराब बरामद किया. एनएच 139 पर वालिदाद कब्रिस्तान के पास औरंगाबाद की ओर से आ रही कार ने एक ट्रैक्टर में टक्कर मार दी जिससे कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई. दुर्घटना के बाद ग्रामीणों ने पुलिस को जानकारी दी जिसके बाद मौके पर पहुंची मेहंदिया थाने की पुलिस ने कार की तलाशी ली तो कार के अंदर से भारी मात्रा में शराब बरामद हुई. इस दुर्घटना के बाद कार चालक मौके से फरार हो गया. पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया और जब कार के मामले में जानकारी निकाली तो उसके होश उड़ गए.

दरअसल ये कार सीनियर सुपरीटेंडेंट ऑफ पुलिस यानी एसएसपी पलवल हरियाणा की बताई जा रही है. कार नंबर से वाहन मालिक की पहचान की गई तो पलवल के एसएसपी के नाम से ये कार रजिस्टर्ड है. इस मामले में एएसपी ने जानकारी देते हुए कहा कि दुर्घटनाग्रस्त कार से 300 लीटर विदेशी शराब बरामद की गई है. कार की नंबर की जांच के बाद ये पलवल के सीनियर एसपी का पाया गया है. जांच में जुटे एएसपी ने बताया कि शराब कारोबारियों द्वारा पुलिस को दिग्भ्रमित करने के लिए भी नंबर प्लेट का उपयोग किया जा सकता है क्योंकि बिहार में पूर्ण शराब बंदी के बाद लगातार शराब कारोबारी के द्वारा कई तरह के उपाय कर शराब की बड़ी खेप अलग-अलग जिलों में पहुंचाया जा रहा है.

पुलिस फिलहाल इस बात का पता लगाने में जुटी है कि क्या ये कार एसएसपी की है या फिर शराब कारोबारी द्वारा नंबर प्लेट की मदद लेकर हरियाणा के पलवल एसएससी के नाम से इसे दिखाने की कोशिश की जा रही है. पुलिस इस मामले में अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कई बिंदुओं पर छानबीन में जुटी है.

इस मामले में हरियाणा पुलिस की तरफ से भी बयान सामने आया है. पलवल पुलिस ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि पुलिस विभाग की गाड़ी स्विफ्ट डिजायर से शराब की तस्करी जो कि बिहार में पकड़ी गई है इस खबर का पलवल पुलिस पूरी तरह से खंडन करती है. पलवल पुलिस के मुताबिक पुलिस विभाग से नीलामी प्रक्रिया के उपरांत साल 2019 में यह गाड़ी नीलाम हो चुकी है और या गाड़ी हासी निवासी अमित को सुपुर्द की गई थी.

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Bihar News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर