बिहार: तेज रफ्तार और जल्दबाजी में 7 लोगों ने गंवाई जान, 9 घायल

बिहार के औरंगाबाद में तीन अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में 7 लोगों की मौत.
बिहार के औरंगाबाद में तीन अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में 7 लोगों की मौत.

सदर एसडीओ प्रदीप कुमार (Sadar SDO Pradeep Kumar) ने बताया कि सभी हादसे तेज रफ्तार और जल्दबाजी की वजह से हुए हैं.

  • Share this:
औरंगाबाद. बुधवार को हुए तीन अलग-अलग सड़क हादसों (Road accidents) में जहां 7 लोगों की मौत हो गयी, वहीं कुल 9 लोग घायल हो गये. घायलों में 5 की हालत नाजुक देखते हुए चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिये उन्हें बाहर रेफर कर दिया है. पहली घटना एन एच-दो पर मदनपुर थाना क्षेत्र के मिठईया गांव के पास की है जहां एक खड़े ट्रक में बाइक ने पीछे से जोरदार टक्कर मार दी. इस  हादसे में बाइक सवार तीनों युवकों की मौत हो गयी. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि पूरी बाइक ट्रक में घुस गई. बताया जा रहा है कि सभी ढिबरा से एक शादी समारोह से लौट रहे थे और अपने गांव  गया जिले के गुरारू थाना क्षेत्र के वर्मा जा रहे थे, लेकिन रास्ते मे यह हादसा हो गया. मृतकों के नाम वकील दास, विजय दास तथा वीरेंद्र कुमार है.

बोलेरो-ट्रक की टक्कर में दो लोगों की मौके पर मौत
दूसरी घटना एन एच-139 पर नगर थाना क्षेत्र के रामा बांध बस स्टैंड के समीप हुई. इस घटना में तेज रफ्तार बोलेरो ने सड़क किनारे खड़ी एक ट्रक में टक्कर मार दी. इसमें  2 लोगों की जहां मौके पर ही मौत हो गयी, वहीं 5 लोग घायल हो गये. घायलों को तत्काल सदर अस्पताल लाया गया जहां 3 की हालत नाजुक देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें पटना रेफर कर दिया. हादसा उस वक़्त हुआ जब कुटुंबा थाना क्षेत्र के ढिबर गांव से बोलेरो पर सवार होकर 8 बाराती नालंदा जिले के भोला बिगहा अपने गांव लौट रहे थे. जैसे ही बोलेरो रामा बांध बस स्टैंड पहुंची रफ्तार तेज होने की वजह से अनियंत्रित हो गयी और किनारे खड़ी ट्रक से टकरा गई. मृतकों में दूल्हे के भाई मिथिलेश सिंह तथा चाचा रामानुज सिंह शामिल हैं.

ट्रक की चपेट में आने से दो बाइक सवार की मौत
तीसरी घटना रिसिअप थाना क्षेत्र के घेऊरा के पास की है. यहां बाइक तथा ट्रक के बीच हुई टक्कर में बाइक सवार दो लोगों की मौत हो गयी. दोनों की पहचान हसपुरा थाना क्षेत्र के तिलौती गांव निवासी रविरंजन तथा उपेन्द्र के रूप में की गई है. पुलिस ने इन तीनों हादसों के मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम कराकर उनके परिजनों को सौंप दिया है. इधर सदर एसडीओ प्रदीप कुमार ने बताया कि सभी हादसे तेज रफ्तार और जल्दबाजी की वजह से हुए हैं. उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवारों को नियमानुकूल सहायता पहंचा दी जायेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज