Bihar Assembly Election 2020: औरंगाबाद में रैली के दौरान तेजस्वी यादव पर फेंकी चप्पल, देखें Video

इस घटना के बाद सभा में अफरा तफरी का महौल बन गया लेकिन बाद में मामला शांत कर लिया गया. (फाइल फोटो)
इस घटना के बाद सभा में अफरा तफरी का महौल बन गया लेकिन बाद में मामला शांत कर लिया गया. (फाइल फोटो)

विधानसभा चुनावों के चलते RJD के प्रचार के लिए तेजस्वी यादव औरंगाबाद पहुंचे थे. यहां पर वे एक सभा को संबोधित करने वाले थे. वे मंच पर चढ़े ही थे कि उन पर किसी ने दो बार चप्पल फेंक दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 9:03 PM IST
  • Share this:
औरंगाबाद. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों (Bihar Assembly Election 2020) के चलते इन दिनों राजनीतिक पार्टियां और उनके वरिष्ठ नेता कई शहरों में रैलियां और सभाएं कर अपनी पार्टी के लिए वोट पक्के करने में लगी हैं. ऐसा ही कुछ आरजेडी के वरिष्ठ नेता और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव (Tejasvi Yadav) भी कर रहे हैं. इसी के चलते वे मंगलवार को एक चुनावी सभा को संबोधित करने के लिए औरंगाबाद पहुंचे. लेकिन यहां पर उनके साथ भीड़ में से किसी शख्स ने बद्तमीजी कर दी. जिस दौरान तेजस्वी मंच पर जाकर बैठे और अपने कार्यकर्ताओं से बात कर रहे थे उसी दौरान किसी ने उनकी तरफ चप्पल उछाल दी. यह चप्पल तेजस्वी को आकर लगी. जिसके बाद सभा में हंगामा मच गया.

दो बार फेंकी चप्पल
वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि तेजस्वी मंच पर आकर बैठे और इस दौरान वे अपने कार्यकर्ताओं को कुछ निर्देश दे रहे थे. इसी दौरान एक चप्पल उनकी तरफ फेंकी गई. इस दौरान तेजस्वी का ध्यान किसी और तरफ था और वे बच गए, चप्पल उनके पीछे जाकर गिरी लेकिन शख्स यहीं नहीं माना और उसी समय उसने एक और चप्पल तेजस्वी की तरफ फेंक दी जो सीधे उनको जाकर लगी.





मची अफरा तफरी, तेजस्वी ने संभाला मामला
तेजस्वी की तरफ चप्पल फेंके जाने के बाद सभा में अफरा तफरी मच गई और कार्यकर्ता गुस्साए नजर आए. इस दौरान कुछ लोग उस शख्स को पकड़ने के लिए भी भागे लेकिन इस दौरान तेजस्वी ने माहौल को संभालते हुए सभी को शांत रहने को कहा. हालांकि आरोपी शख्स कौन है अभी इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है. वहीं इस वारदात के संबंध में मामला दर्ज हुआ है कि नहीं इस बारे में भी आरजेडी ने फिलहाल आधिकारिक तौर पर कुछ भी नहीं कहा है.

वीडियो हुआ वायरल
तेजस्वी पर चप्पल फेंकने का वीडियो तेजी से इंटरनेट पर वायरल हो गया. हालांकि लोगों सहित अन्य राजनीतिक दलों ने भी इस बात की निंदा की है और कहा है कि इस तरह की वारदात किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज