लाइव टीवी

गुजरात में बिहार के युवक की मौत पर सुशील मोदी और बीजेपी सांसद आमने-सामने

News18 Bihar
Updated: October 16, 2018, 5:34 AM IST
गुजरात में बिहार के युवक की मौत पर सुशील मोदी और बीजेपी सांसद आमने-सामने
प्रतीकात्मक तस्वीर

मृतक अमरजीत के साथ गुजरात में रहने वाले उनके भाई राकेश कुमार की मानें तो सूचना के बाद उन्हें अस्पताल में अपने भाई का शव मिला. उन्हें इस बात की जानकारी नहीं दी गई कि उनके भाई को अस्पताल कौन लाया.

  • Share this:
गुजरात में सूरत के पंडेश्वरा में 15 साल से रहनेवाले अमरजीत की शुक्रवार को मौत हो गई. गुजरात पुलिस मौत की वजह गंभीर सड़क हादसा बता रही है. गुजरात पुलिस के बयान को उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी बिहार में दुहरा रहे हैं, लेकिन उन्हीं की पार्टी (बीजेपी)के औरंगाबाद से सांसद सुशील कुमार, डिप्टी सीएम के बयानों से इत्तेफाक नहीं रखते हैं.

न्यूज 18 से बात करते हुए सुशील कुमार ने कहा कि अमरजीत के चेहरे या शरीर पर कहीं से कोई चोट का निशान नहीं है और सिर्फ गर्दन के पिछले भाग में गहरा घाव है. सड़क दुर्घटना होने पर शरीर के अन्य भाग में भी चोट लगना लाजिमी है. इसलिए उन्होंने गुजरात और बिहार के मुख्यमंत्री को इस घटना की सीबीआई जांच कराने की अनुशंसा करने के लिए पत्र भेजा है.

वहीं गुजरात पुलिस के बयान पर हां में हां मिलाने पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के खिलाफ गया में विरोधियों ने मोर्चा खोल दिया है. भाकपमा माले ने विरोध मार्च और जनाधिकार पार्टी ने उनका पुतला दहन किया है.

मृतक अमरजीत के साथ गुजरात में रहने वाले उनके भाई राकेश कुमार की मानें तो सूचना के बाद उन्हें अस्पताल में अपने भाई का शव मिला. उन्हें इस बात की जानकारी नहीं दी गई कि उनके भाई को अस्पताल कौन लाया. वहीं जब उन्होंने थाना में खुद आवेदन देना चाहा तो वहां की पुलिस ने आवेदन लेने से मना कर दिया. अब भाई के श्राद्ध के बाद वे भी वहां से अपना रिश्ता खत्म कर लेंगे.

वहीं सेना से रिटायर्ड मृतक अमरजीत के पिता राजदेव सिंह की मानें तो अब उन्हें न्याय मिलता हुआ नहीं दिख रहा है क्योंकि गुजरात सरकार की हां में हां मिलते हुए बिहार सरकार की पुलिस ने उनके गया में दुबारा पोस्टमार्टम कराने की मांग को खारिज कर दिया है. उनके बेटे के शरीर पर एकमात्र घाव यह साबित कर रहा है कि उसकी हत्या हुई है और सरकारें बदनामी के भय से इसे एक्सीडेंट बनाने में लगी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए औरंगाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2018, 5:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर