लाइव टीवी

BJP के इस सांसद को जान का है खतरा, चुनाव प्रचार के दौरान हो सकता है हमला: खुफिया विभाग

News18 Bihar
Updated: March 24, 2019, 7:47 PM IST

बीजेपी सांसद सुशील कुमार सिंह को नक्सलियों से जान का खतरा है. लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान नक्सली उनके ऊपर हमला कर सकते हैं.

  • Share this:
औरंगाबाद से बीजेपी सांसद सुशील कुमार सिंह को नक्सलियों से जान का खतरा है. लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान नक्सली उनके ऊपर हमले कर सकते हैं. इस बात का खुलासा ख़ुफ़िया विभाग ने  किया है. वहीं, सभी सम्बंधित पुलिस अधिकारीयों ने अलर्ट जारी कर चुनाव प्रचार के दौरान सुरक्षा का समुचित प्रबंध किये जाने की बात कही है. इधर सांसद ने भी ख़ुफ़िया विभाग की इस रिपोर्ट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सुरक्षा की जिम्मेवारी शासन-प्रशासन की होती है. ऐसे में यदि इस खतरे की जानकारी शासन- प्रशासन को है तब उनकी तरफ से निश्चित तौर पर सुरक्षा को लेकर अतिरिक्त इंतज़ाम किया जाना चाहिए.

बता दें कि औरंगाबाद नक्सली क्षेत्र है. यहां पर आए दिन पुलिस और उग्रवादियों के बीच मुठभेड़ होती रहती है. हाल ही में 14 मार्च को औरंगाबाद में नक्सलियों ने पुलिस को खुली चुनौती देते हुए जमकर उत्पात मचाया था. नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य में लगे 2 जेसीबी मशीनों को पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी थी. घटना जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र के चरैया गांव की थी.

घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंच गई. कंपनी के मजदूरों के मुताबिक, लगभग 20 की संख्या में हथियार से लैश नक्सलियों ने इस घटना को अंजाम दिया. नक्सलियों का जत्था कैंप पर पहुंचा और कर्मचारियों के साथ मारपीट करने लगा था. इसके बाद मौके पर मौजूद कर्मचारियों को नक्सलियों ने एक कमरे में बंद कर दिया और पेट्रोल छिड़क कर दोनों जेसीबी को आग के हवाले कर दिया.

ये भी पढ़ें- 

लोकसभा चुनाव 2019: क्या BJP के लिए हुकुम का इक्का साबित होंगे नारायण के बेटे अशोक?



अपने ही कुलपति के खिलाफ पहला केस लड़ने वाले रविशंकर प्रसाद का ऐसा है राजनीतिक जीवन
Loading...



NDA की प्रत्याशी लिस्ट आने के बाद महागठबंधन भी जातीय समीकरण साधने पर हुआ मजबूर, जानें कैसे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए औरंगाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2019, 5:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...