• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • 'BJP नेता ने नोटबंदी के समय लिए पांच करोड़ रुपये वापस नहीं दिए तो हमला किया'

'BJP नेता ने नोटबंदी के समय लिए पांच करोड़ रुपये वापस नहीं दिए तो हमला किया'

नक्सलियों द्वारा फूंकी गई बस

नक्सलियों द्वारा फूंकी गई बस

पर्चे के माध्यम से नक्सलियों ने बताया कि ठेकेदार एमएलसी राजन सिंह ने नोटबंदी के समय पैसे बदल कर देने के लिए संगठन से 5 करोड़ रुपये लिए थे.

  • Share this:
    बिहार के औरंगाबाद के देव में हुए नक्सली हमले की भाकपा माओवादी दस्ते ने जिम्मेदारी ली है. साथ ही एक पर्चे के माध्यम से इसकी वजह का भी खुलासा किया है. नक्सलियों ने इस पर्चे के जरिए भाजपा के विधान पार्षद राजन सिंह पर कई संगीन आरोप लगाये हैं.

    पर्चे के माध्यम से नक्सलियों ने बताया कि ठेकेदार एमएलसी राजन सिंह ने नोटबंदी के समय पैसे बदल कर देने के लिए संगठन से 5 करोड़ रुपये लिए थे. इस रकम को उन्होंने लौटाया नहींं. इसके अलावा उनके ऊपर लेवी का 2 करोड़ रुपये भी बकाया है जिसे एमएलसी ने नहीं दिया था. इसी वजह से यह कार्रवाई की गई है.

    नक्सलियों ने अपने पर्चे में आगे लिखा है, 'माओवादियों तथा उनके रिश्तेदारों की संपत्ति सरकार द्वारा अन्यायपूर्ण तरीके से जब्त की जा रही है जिसका संगठन विरोध कर रहा है.' पर्चे में यह भी बताया गया है कि भाजपा के जमींदारों तथा ठेकेदारों के खिलाफ संपत्ति जब्ती की कार्रवाई जारी रहेगी. माओवादियों के इस पर्चे से हड़कंप मच गया है.

    नक्सलियों द्वार फेंका गया पर्चा


    इस मामले में एमएलसी ने बताया कि उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने नक्सलियों से किसी भी तरह के सांठगांठ से इनकार करते हुए कहा, 'मैं नक्सलियों के टारगेट पर हूं.' निर्माण कंपनी के बेस कैम्प पर हुए नक्सली हमले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि नक्सलियों का लेवी का पैसा बकाया नहीं है क्योंकि वे नक्सलियों को लेवी नहीं देते हैं.

    मालूम हो कि शनिवार को औरंगाबाद के देव में नक्सलियों ने बीजेपी एमएलसी के दो मकानों पर धावा बोलते हुए दस गाड़ियों को फूंक दिया था. वहीं उनके चाचा की गोली मारकर हत्या कर दी थी. घटना के बाद पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

    रिपोर्ट- संजय सिन्हा

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज