Assembly Banner 2021

बांका : हथियारों के बल पर जमीन पर कब्जा करने पहुंचे विधायक, ग्रामीणों ने बना लिया बंधक

ग्रामीणों से घिरी विधायक की गाड़ी और मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी.

ग्रामीणों से घिरी विधायक की गाड़ी और मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी.

मौके पर लोगों ने बताया कि करीब 20 एकड़ जमीन पर कब्जे के लिए हरवे हथियार के साथ पहुंचे थे विधायक. पर लोगों ने उन्हें बंधक बना लिया. बाद में पुलिस हस्तक्षेप के बाद उन्हें छुटकारा मिल पाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 7, 2021, 10:54 PM IST
  • Share this:
बांका. गोपालपुर (Gopalpur) के विधायक नीरज कुमार (MLA Neeraj Kumar) उर्फ गोपाल मंडल का विवादों से पुराना नाता रहा है. आज ऐसे ही एक विवाद में उनको बांका (Banka) जिला के बौन्सी थाना स्थित श्यामबाजार में मुंह की खानी पड़ी और करीब एक घंटे तक लोगों के कब्जे में रहे. बताया जा रहा है कि श्यामबाजार स्थित दुर्गा मंदिर के पास करीब 20 एकड़ जमीन पर तथाकथित कब्जे के लिए अपने गुर्गे के साथ हरवे हथियार लेकर पहुंचे थे. लेकिन लोगों के प्रतिरोध के सामने उनको झुकना पड़ा और पुलिस की दखल और माफी मांगने के बाद वहां से उन्हें छुटकारा मिल पाया.

इस घटना को लेकर बताया जा रहा है कि चार गाड़ी में 12 से अधिक लोगों के साथ विधायक पहुंचे थे. हथियार के बल पर उन्होंने नंदकिशोर शाह से कहा सुनी और धक्का-मुक्की की. इसके बाद मामला बढ़ गया और लोगों की भीड़ का सामना करना पड़ा. लोगों की भीड़ ने विधायक और उनके लोगो पर हथियार और बम-बारूद से डराने-धमकाने की बात कहते हुए उन्हें करीब एक घंटे तक बंधक बनाकर रखा गया. बाद में कुछ राजनीतिक लोग और पुलिस का दखल हुआ, तो लोगों ने उन्हें मुक्त किया. लोगों का कहना है कि विधायक ने जमीन पर लोगों को घर बनाने से रोकने और जबरदस्ती उसपर कब्जा जमाने की कोशिश की, जिसका विरोध लोगों ने किया था. फिलहाल विधायक को अपनी गलती मानते हुए वहां से निकलना पड़ा.

विधायक का कहना है कि करीब 9 महीने पहले जमीन की खरीद करने के बाद जब उसकी रसीद नहीं कटी, तब हम केवल जमीन देखने आए थे और कोई बात नहीं है. वहीं प्रत्यक्षदर्शी अनिरुद्ध यादव का कहना है कि हथियार के बल पर लोगों को डरा-धमकाकर जमीन पर कब्जा करने की कोशिश के चलते उन्हें विरोध करना पड़ा. वहीं नंदकिशोर शाह का कहना है कि बम और हथियार के साथ जमीन पर कब्जा के गलत इरादे से विधायक पहुंचे थे. जो लोगों और पुलिस के चलते बच गए. स्थानीय लोगों में विधायक के तौर-तरीके से काफी नाराजगी कायम है.



इस बाबत बौन्सी थानाध्यक्ष राजकिशोर सिंह ने दूसरे पक्ष के द्वारा आवेदन देने की बात कहते हुए मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करने की बात कही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज