बिहार में बर्ड फ्लू का कहर, बांका में मुर्गों की मौत के बाद डॉक्टरों की टीम रवाना

विभाग के निदेशक डॉ. अलका शरण ने की बर्ड फ्लू की पुष्टि करते हुए कहा कि जांच के लिए पशु चिकित्सकों की टीम को पटना से रवाना किया गया है.

News18 Bihar
Updated: January 12, 2019, 9:11 AM IST
बिहार में बर्ड फ्लू का कहर, बांका में मुर्गों की मौत के बाद डॉक्टरों की टीम रवाना
फाइल फोटो
News18 Bihar
Updated: January 12, 2019, 9:11 AM IST
बिहार में एक बार फिर से बर्ड फ्लू ने दस्तक दी है. मामला बांका जिले से जुड़ा है जहां धौरैया में बर्ड फ्लू से एक साथ कई मुर्गों की मौत हो गई. बड़ी संख्या में मुर्गों की मौत से पशुपालन विभाग में हड़कंप मच गया. मौत की सूचना मिलने के बाद विभाग के 6 चिकित्सक समेत 8 लोगों की टीम बांका के लिए रवाना हो गई. है.

पशु उत्पादन संस्थान के डॉ. अजित भी इस टीम में शामिल हैं. विभाग के निदेशक डॉ. अलका शरण ने की बर्ड फ्लू की पुष्टि करते हुए कहा कि जांच के लिए पशु चिकित्सकों की टीम को पटना से रवाना किया गया है.



ये भी पढ़ें- गया हत्याकांड: इन तथ्यों के कारण संदिग्ध लग रही पुलिस की भूमिका

इससे पहले पटना से सटे बिहटा और मुंगेर में भी एक साथ कई पक्षियों की मौत हो गई थी. मुंगेर के सदर प्रखंड, मुबारकचक, बांक, मिन्नत नगर में कौवों और मुर्गों में H5N1 बर्ड एन्फ्लूएंजा के विषाणु पाए जाने की खबर थी. राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान की पुष्टि के बाद पशुपालन निदेशालय की छह सदस्यीय टीम मुंगेर पहुंची थी.

टीम ने मुबारकचक से एक किलोमीटर के दायरे में बसे गांवों में लगभग 1000 पक्षियों को मारा था और उनके अवशेष को सुरक्षित तरीके से मिट्‌टी में दफन कर दिया जा था. बर्ड फ्लू की आशंका के बीच पटना के संजय गांधी उद्यान को भी बंद कर दिया गया था.

इनपुट- कुलभूषण गोपाल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...