शर्मनाक: डेढ़ माह की बच्ची को मां ने जिंदा दफनाया, रोना सुनकर लोगों ने बचाई जान

पीड़ित बच्ची दिव्यांग है जो अभी खतरे से बाहर है. लोगों की मानें तो वो अपनी मां के साथ ननिहाल आई थी इसी दौरान उसे मारने की कोशिश की गई.

News18 Bihar
Updated: October 29, 2018, 11:36 AM IST
शर्मनाक: डेढ़ माह की बच्ची को मां ने जिंदा दफनाया, रोना सुनकर लोगों ने बचाई जान
सांकेतिक चित्र
News18 Bihar
Updated: October 29, 2018, 11:36 AM IST
बिहार के बांका में मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है. बांका के कटोरिया में डेढ़ माह की बच्ची को उसके ही परिजनों ने जिंदा गड्ढ़े में दफना दिया. घटना रिखीया राजदह के कुहका जोर की है. बच्ची के रोने की आवाज सुनकर ग्रामीणों ने फौरन उसे गड्ढे से निकाला और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया.

बच्ची अभी खतरे से बाहर है. लोगों की मानें तो बच्ची दिव्यांग है, जो अपनी मां के साथ ननिहाल आयी थी लेकिन उसकी कलियुगी मां ने ही अपने परिजनों के साथ मिलकर मासूम को गड्ढे में दफना दिया.



घटना कटोरिया थाना के मनिया पंचायत के रिखीया राजदह के कुहका जोर की है. लड़की को अस्पताल लाने वाले लोगों की मानें तो लड़की अपने मामा के घर आयी थी. इसी दौरान उसकी मां कुहका जंगल की ओर गई और वहां जाकर उसने कुछ लोगों के सहयोग से गड्ढ़ा खोदा और मौका पाते ही बच्ची को गड्ढे में दफना दिया.

फिलहाल बच्ची का इलाज चल रहा है वहीं पंचायत के पंचायत समिति सदस्य मनीष कुमार सुमन ने बच्ची को अस्पताल तक पहुंचाया. घटना के कारणों का अभी तक पता नहीं लग सका है लेकिन लोगों का आरोप है कि बच्ची की मां ने ही उसे दफन किया है.

रिपोर्ट- नागेंद्र द्विवेदी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...