बिहार: कुदरत ने बरपाया आसमानी कहर, बिजली गिरने से 107 लोगों की मौत, नीतीश सरकार देगी मुआवजा
Aurangabad-Bihar News in Hindi

बिहार: कुदरत ने बरपाया आसमानी कहर, बिजली गिरने से 107 लोगों की मौत, नीतीश सरकार देगी मुआवजा
बिहार में वज्रपात के कारण 107 लोगों की मौत.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है और लोगों से आपदा विभाग के सुझावों का पालन करने का आग्रह किया है.

  • Share this:
पटना. बिहार के कई जिलों में लगातार भारी बारिश (Heavy rain) के बीच आसमानी कहर से जानमाल का भारी नुकसान हुआ है. वज्रपात (Thunderclap) के कारण बिहार में अब तक 107 लोगों की मौत की सूचना है. शुक्रवार को भी कई जिलों में भारी बारिश के आसार हैं और मौसम विभाग ने लोगों से अपील की है कि वे घरों से बाहर न निकलें. 26 जून को जिन जिलों में भारी बारिश व वज्रपात की आशंका व्यक्त की गई है, इनमें 18 जिलों में खास तौर पर एहतियात बरतने की सलाह दी गई है. मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, बिहार के 18 जिलों में इसका खास तौर पर इसका प्रभाव रहेगा. प्रभावित होने वाले जिले पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सीवान, शिवहर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सारण, मधुबनी, सुपौल, अररिया, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, किशनगंज एवं कटिहार हैं. ऐसे में मौसम विभाग ने लोगों को उचित सावधानी एवं सुरक्षा उपाय बरतने की सलाह दी है.

बिहार के इन जिलों में 107 मौत
गोपालगंज, सीवान, मधुबनी, भागलपुर, मोतिहारी, दरभंगा, बांका, जहानाबाद, शिवहर, समस्तीपुर समेत कई जिलों में आकाशीय बिजली (Lightning) गिरने से  103 से अधिक लोगों की मौत हो गई है. इनमें गोपालगंज में 14, पूर्णिया में 9, औरंगाबाद में 8, मधुबनी में 8, सीवान में 8, नवादा में 8, भागलपुर में 6, बांका में 5, पूर्वी चंपारण में 5, दरभंगा में 5, बांका में 5,  खगड़िया में 3, समस्तीपुर में 2, सुपौल में 2, कैमूर में 2, पश्चिम चंपारण में 2,  किशनगंज में 2, जहानाबाद में 2, जमुई में 2, बक्सर में 2,  सीतामढ़ी में 2,  शिवहर में 1, सारण में 1,  मधेपुरा में 1, सहरसा  में 1 और अररिया में 1 और व्यक्ति की मौत हुई है.

सरकार ने किया मुआवजे का ऐलान
सरकारी आंकड़ों के अनुसार अभी ये संख्या 83 है. गुरुवार को इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है. मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी पत्र में कहा गया है कि राज्य में के विभिन्न जिलों में बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत हो गई है. मुख्यमंत्री ने इस पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है और मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें. खराब मौसम होने पर बिजली गिरने से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का अनुपालन करें और खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें.



पीएम मोदी ने व्यक्त की संवेदना
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बिहार और यूपी में बरपे इस आसमानी कहर में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की है. इसके साथ ही उन्होंने सरकारों से राहत कार्य तत्पतरता से करने की बात कही है.



इन नेताओं ने भी जताया शोक
वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने लिखा, बिहार में बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत की ख़बर सुनकर स्तब्ध हूं. भगवान उनके प्रियजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति दे. कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मेरी अपील है कि पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद करें.

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट कर संवेदना व्यक्त करते हुए लिखा,  बिहार के विभिन्न जिलों में वज्रपात के कारण हुई आज 83 लोगों की असामयिक मौत से मर्माहत हूं. मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी शोक-संवेदना व्यक्त करता हूं. भगवान सबों की आत्मा को शांति प्रदान करे.  सरकार से अपील है कि पीड़ित परिवारों व आश्रितों तक उपयुक्त अनुग्रह राशि यथाशीघ्र पहुंचाएं.

लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान भी ट्वीट कर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने लिखा, बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में आकाशीय बिजली (वज्रपात) गिरने से कई लोगों की दुखद मृत्यु हो गई है और कई ज़िलों में कई साथियों के झुलसने की दुखद खबर भी मिली है. यह खबर बेहद दुखद है.मैं सभी के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं व घायलों की जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading