प्यार पर लगा पहरा तो एक साथ फांसी के फंदे से झूल गईं दो नाबालिग सहेलियां

बांका थाना के विशुआ टांड़ गांव की चौदह वर्षीय रीना कुमारी (काल्पनिक नाम ) और मोनी कुमारी ( काल्पनिक नाम ) के परिजनों की मानें तो दोनों दोस्ती की हद से आगे निकल चुकी थीं.

News18 Bihar
Updated: April 3, 2018, 11:48 AM IST
प्यार पर लगा पहरा तो एक साथ फांसी के फंदे से झूल गईं दो नाबालिग सहेलियां
मामले की पड़ताल को पहुंची पुलिस
News18 Bihar
Updated: April 3, 2018, 11:48 AM IST
मात्र चौदह वर्ष की उम्र में दो सहेलियों के बीच इतना जबर्दस्त प्यार हुआ की परिवार की मनाही के बाद जुदाई के डर से दोनों ने एक साथ जान दे दी. घटना बिहार के बांका जिले के ककवारा स्थित विशुवाटांड़ गांव की है.

परिवार वालों के लाख मना करने के बाद भी दोनों सहेलियां पिछले एक वर्ष से साथ ही थीं. दोनों अपने सारे काम एक साथ ही करती थीं. इसको लेकर दोनों लड़कियों के परिवार वाले उन्हें अलग करवाने की कोशिश करते रहे लेकिन दोनों के बीच संबंध की डोर कमजोर होने की बजाय और मजबूत होती गई.

दो दिनों से दोनों परिवार के लोगों ने लड़कियों पर अलग-अलग रहने का दबाव डाला तो दोनों सहेलियों ने घर के पास के एक दुप्पटे को फंदा बना कर अपनी जा दे दी. बांका थाना के विशुआ टांड़ गांव की चौदह वर्षीय रीना कुमारी (काल्पनिक नाम ) और मोनी कुमारी ( काल्पनिक नाम ) के परिजनों की मानें तो दोनों दोस्ती की हद से आगे निकल चुकी थीं.

पुलिस भी दोनों के परिजनों से पूछताछ के आधार पर दोस्ती में परिजनों के आड़े आने को ही मौत का कारण बता रहे हैं. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिये भिजवा दिया है और मामले की पड़ताल में लगी है. पुलिस के मुताबिक प्रथमदृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है। बावजूद इसके सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...