दुर्भाग्य कि राम मंदिर के लिए हिंदुओं को अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ा- गिरिराज सिंह

गिरिराज सिंह ने कहा कि यह भारत का दुर्भाग्य है कि भारतीयों के इष्ट देव भगवान राम कि मंदिर निर्माण के लिए हिंदुओं को अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ रहा है.

News18 Bihar
Updated: August 9, 2019, 6:44 PM IST
दुर्भाग्य कि राम मंदिर के लिए हिंदुओं को अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ा- गिरिराज सिंह
राम मंदिर पर ये बोले गिरिराज सिंह
News18 Bihar
Updated: August 9, 2019, 6:44 PM IST
बेगूसराय के सांसद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बार फिर राम मंदिर के मुद्दे पर शंखनाद किया है. गिरिराज सिंह ने कहा कि यह भारत का दुर्भाग्य है कि भारतीयों के इष्ट देव भगवान राम कि मंदिर निर्माण के लिए हिंदुओं को अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ रहा है. वो भी सुनवाई इतनी लंबी चल रही है. गिरिराज सिंह ने मांग की है कि साल के 360 दिन राम मंदिर मामले की सुनवाई हो और जल्द से जल्द मंदिर निर्माण का रास्ता साफ होना चाहिए.

दरअसल सप्ताह में 5 दिन सुनवाई होने के मामले में मुस्लिम संगठन तथा अधिवक्ता राजीव धवन ने आपत्ति जाहिर की थी और कहा था कि सप्ताह में 5 दिन सुनवाई होने की वजह से तैयारी करने में परेशानी हो रही है. इसी बयान के आलोक में गिरिराज सिंह ने उक्त बातें कही हैं. गिरिराज सिंह ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि कुछ लोग इस मामले को लंबा खींच कर अपनी रोटी सेकना चाह रहे हैं और समाज में विद्वेष फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, जो अब संभव नहीं है. गिरिराज सिंह ने कहा कि जल्द से जल्द इस मामले की सुनवाई खत्म होगी और यह राष्ट्रीय एकता की दिशा में एक मील का पत्थर साबित होगा.

आपको बता दें कि अयोध्या मामले में मध्यस्थता की कोशिश नाकाम होने के बाद मंगलवार से सुप्रीम कोर्ट में नियमित सुनवाई शुरू हो गई है. 6 अगस्त से शुरू हुई रोजाना सुनवाई का शुक्रवार को चौथा दिन था. पहले तीन दिन सर्वोच्च अदालत में निर्मोही अखाड़ा और रामलला विराजमान ने अपना पक्ष रखा. आज मुस्लिम पक्ष अपना पक्ष रख रहे हैं. मुस्लिम पक्ष की ओर से वकील राजीव धवन ने सफ्ताह के पांच दिन सुनवाई का विरोध किया.

ये भी पढ़ें: 

आर्टिकल 370ः कश्मीर से पलायन को मजबूर हुए यूपी-बिहार के लोग

CM नीतीश का ऐलान- हर सरकारी भवन पर लगाए जाएंगे सोलर प्लांट
First published: August 9, 2019, 6:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...