बेगूसराय: शादी में सोशल डिस्टेंसिंग, दूल्हा-दुल्हन ने डंडे के सहारे पहनाई वरमाला

कोरोना गाइडलाइन: दूल्हा-दुल्हन ने डंड़े के सहारे पहनाई वरमाला.

कोरोना गाइडलाइन: दूल्हा-दुल्हन ने डंड़े के सहारे पहनाई वरमाला.

बेगूसराय में कोरोना प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया गया. दूल्हा और दुल्हन ने एक दूसरे के बीच इतनी सोशल डिस्टेंसिंग बनाई कि एक दूसरे को वरमाला भी डंडे के सहारे पहनाई है. शादी में शामिल हुए लोग दूल्हा-दुल्हन की प्रशंसा कर रहे हैं.

  • Share this:
बेगूसराय. बेगूसराय ( Begusarai) में बीती रात संपन्न हुई एक शादी लोगों की जुबान पर चढ़ गई. यह कोरोनाकाल की ऐसी अनोखी शादी है जिसमें कोरोना प्रोटोकॉल (Corona protocol) का पूरी तरह पालन किया गया. दूल्हा और दुल्हन ने एक दूसरे के बीच इतनी सोशल डिस्टेंसिंग बनाई कि एक दूसरे को वरमाला भी डंडे के सहारे पहनाई है. शादी में शामिल हुए  लोग दूल्हा-दुल्हन की प्रशंसा कर रहे हैं.

बेगूसराय में एक अनोखी शादी उस वक्त चर्चा में आ गयी जब शादी के पूर्व दूल्हा- दुल्हन ने एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए डंडे के सहारे से माला पहनाकर वरमाला की रस्म अदायगी की. पूरा वाक्या तेघड़ा अनुमंडल क्षेत्र के तेघरा बाजार की है. दरअसल गिरधारीलाल सुल्तानिया के पुत्र कृतेश कुमार की शादी बेगूसराय के ज्योति कुमारी के साथ 30 अप्रैल की रात सम्पन्न होनी थी.

शादी में सरकारी गाइडलाइन का पालन करते हुए 50 लोगों की उपस्थिति में शादी समारोह की शुरूआत की गई. इस दौरान दूल्हा और दुल्हन एक दूसरे को मास्क लगाया. साथ ही सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए डंडे की मदद से एक दूसरे को माला पहनाकर जयमाला की रस्म अदायगी की. डंडे के सहारे जयमाला की रस्म अदायगी के बाद यह शादी चर्चा का विषय बन गया है. कोरोना काल में सोशल डिस्टेंस, मास्क लगाने का गाइडलाइन जारी है. ऐसे में इस तरह से शादी कर लोगों को जागरूक भी किया गया.

दूल्हे के अनुसार शादी रहेगी यादगार
दूल्हे ने बताया कि यह शादी उनके लिए यादगार रहेगी. खासकर डंडे की मदद से जयमाला करना उन्हें हमेशा याद रहेगा. स्थानीय लोगों ने भी इस शादी को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए यह शादी की गई है. समाज को कोरोना गाइडलाइन पालन करने को प्रेरित भी करती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज