दुधमुंहे बच्चे का हक दिलाने पहुंचे थे परिजन, लड़की के ससुराल वालों ने जमकर पीटा

एक दुधमुंहे बच्चे को उसका हक दिलाने के लिए पंचायती करने पहुंचे तकरीबन 10 लोगों को लड़की के ससुराल पक्ष के लोगों ने जमकर पिटाई कर दी. जिसमें सभी गंभीर रूप से घायल हो गए.

News18 Bihar
Updated: August 5, 2019, 7:45 AM IST
दुधमुंहे बच्चे का हक दिलाने पहुंचे थे परिजन, लड़की के ससुराल वालों ने जमकर पीटा
मामला बिहार के बेगूसराय का है. घायल परिजन अस्पताल में. (वीडियो ग्रैब)
News18 Bihar
Updated: August 5, 2019, 7:45 AM IST
बेगूसराय में एक दुधमुंहे बच्चे को उसका हक दिलाने के लिए पंचायती करने पहुंचे तकरीबन 10 लोगों को लड़की के ससुराल पक्ष के लोगों ने जमकर पिटाई कर दी. जिसमें सभी गंभीर रूप से घायल हो गए. घटना के बाद स्थानीय लोगों ने किसी तरह बीच-बचाव कर सभी घायलों को पीएचसी पहुंचाया जहां से उनकी स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया. फिलहाल सबों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है. घटना बरौनी थाना क्षेत्र के पिपरा की है.

क्या है पूरा मामला
दरअसल बरौनी थाना क्षेत्र के हाजीपुर पिपरा निवासी सत्यनारायण सिंह उर्फ सत्तो सिंह के पुत्र चंदेश्वर सिंह की शादी वर्ष 2018 में पटना बस स्टैंड निवासी पुष्पा देवी से हुई थी. पुष्पा देवी के परिजनों ने आरोप लगाया है कि शादी के बाद से ही सत्यनारायण सिंह एवं चंदेश्वर सिंह के द्वारा पांच लाख रुपया और 4 चक्का गाड़ी के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा था. जिसे दिने में परिवार के लोग असमर्थ थे.

दहेज के लिए करते रहे प्रताड़ित

दहेज ना मिलने के कारण चंदेश्वरी सिंह के द्वारा पुष्पा कुमारी को लगातार प्रताड़ित किया जाता था और मारपीट की जाती थी. इसी दौरान पुष्पा देवी गर्भवती हो गई और उसने एक पुत्र को जन्म दिया. लेकिन लगातार पिटाई की वजह से पुष्पा देवी बीमार हो गई थी और 9 जुलाई 2019 को उसकी मौत हो गई.

दुधमुंहे बच्चे के लिए नहीं दर्ज कराया मामला
वहीं दुधमुंहे बच्चे को हक दिलाने की खातिर पुष्पा देवी के परिजनों ने चंदेश्वरी सिंह पर मामला दर्ज नहीं करवाया और शादी के दौरान उपहार स्वरूप दी गई रकम और अन्य सामानों की मांग एवं बच्चे को उसके हक के लिए लगातार मांग करते रहे.
Loading...

पुष्पा देवी के परिजनों का आरोप है कि पिछले दिनों पंचायती के लिए 4 अगस्त का समय दिया गया. पुष्पा देवी के परिजनों को पिपरा बुलाया गया. जब यह लोग पंचायती के लिए पटना से पिपरा पहुंचे तो सर्वप्रथम चंदेश्वरी सिंह एवं उनके पिता के द्वारा टालमटोल की गई. फिर 5:00 बजे शाम का समय दिया गया.

अबतक पुलिस ने नहीं की कोई कार्रवाई
जब रात हुई तब चंदेश्वरी सिंह अपने अन्य परिवार के लोगों के साथ हथियार एवं लाठी-डंडे के साथ पहुंचकर पुष्पा देवी के परिजनों की पिटाई शुरू कर दी. बाद में स्थानीय लोगों ने किसी तरह बीच-बचाव कर सभी घायलों को सदर अस्पताल पहुंचाया. फिलहाल इस मामले में पुलिस के द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

(रिपोर्ट- संतोष कुमार)

ये भी पढ़ें-

वॉट्सऐप पर दूसरे मर्द से बात करती थी पत्नी, पति ने गला घोंटकर की हत्या

तीन तलाक बिल पास होने का जश्न मना रही थी बीवी, शौहर ने कहा- तलाक, तलाक, तलाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बेगूसराय से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 7:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...